प्रेस रिव्यू-'पति पर शक हो तो सीनियर्स को बताए पत्नी'

इमेज कॉपीरइट AFP

दैनिक भास्कर के मुताबिक इंडो तिब्बतन बॉर्डर पुलिस यानी आईटीबीपी ने 85 हज़ार बुकलेट छपवाकर जवानों की पत्नियों को अनोखी सलाह दी है.

इसमें कहा गया है कि अगर जवान की पत्नी को पति पर शक हो तो वो सीनियर्स को इसकी जानकारी दे. बुकलेट में जवानों की पत्नियों के अधिकार और कर्तव्यों के बारे में बताया गया है. बुकलेट को फोर्स की वाइफ वेलफेयर एसोसिएशन ने विशेषज्ञों और डॉक्टर्स से बातचीत कर तैयार किया है.

इमेज कॉपीरइट EPA

हिन्दुस्तान टाइम्स ने लिखा है कि कश्मीर का 'वीडियो वॉर' सोशल मीडिया पर छाया हुआ है. रविवार को सत्ताधारी पीपुल डेमोक्रेट्क पार्टी के एक कथित समर्थक का वीडियो वायरल हुआ जिसमें बंदूक की नोंक पर उनसे भारत विरोधी नारे लगवाए जा रहे हैं.

इस वीडियो में एक कश्मीरी व्यक्ति वली मोहम्मद कह रहा था कि उसे राजनीतिक गतिविधियां छोड़े लंबा समय हो गया है.

ये दोनों वीडियो रविवार को सोशल मीडिया में सबसे ज़्यादा शेयर किए गए.

कश्मीर में वायरल होते वीडियो: क्या मालूम है और क्या नहीं

'पीटा, जीप से बांधा और 18 किमी तक घुमाते रहे'

इमेज कॉपीरइट TWITTER

टाइम्स ऑफ इंडिया ने लिखा है कि जम्मू कश्मीर पुलिस ने सेना की उस यूनिट के ख़िलाफ़ मामला दर्ज कर लिया है जिन पर कथित तौर पर एक आदमी को मानव ढाल बनाकर जीप से बांधकर घुमाया गया था. अख़बार ने लिखा है कि रक्षा मंत्री अरुण जेटली सोमवार को इस मुद्दे पर सेना के कमांडरों से बैठक के दौरान बात करेंगे.

इमेज कॉपीरइट ROUF BHAT/AFP/GETTY IMAGES

इंडियन एक्सप्रेस ने लिखा है कि ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड का कहना है कि तीन तलाक़ मान्य है. रविवार को लॉ बोर्ड ने कहा कि फौरी दिया गया तीन तलाक़ जिसमें शौहर तीन बार तलाक़ बोलता है ग़लत है लेकिन फिर भी शादी को ख़त्म करने के लिए मान्य है.

हालांकि बोर्ड ने ये भी कहा कि जो मुसलमान तीन तलाक़ का ग़लत इस्तेमाल करते हैं उन्हें सामाजिक बहिष्कार का सामना करना होगा.

इमेज कॉपीरइट Reuters

द हिन्दू ने लिखा है कि रविवार को प्लेन हाइजैक की आशंका के चलते मुंबई, हैदराबाद और चेन्नई के इंटरनेशनल एयरपोर्ट हाई अलर्ट पर रखे गए थे.

सीआईएसएफ का कहना है कि पुलिस को हैदराबाद से एक अनजान महिला का ईमेल मिला था. जिसमें दावा किया गया था कि 23 लोगों का ग्रुप मुंबई, हैदराबाद और चेन्नई एयरपोर्ट से विमान को हाईजैक करने वाले हैं. जिसके बाद स्पेशल सिक्योरिटी कमेटी की बैठक बुलाई गई और हवाई अड्डों को हाई अलर्ट पर रखने का फ़ैसला लिया गया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे