प्रेस रिव्यू: 'पासपोर्ट के लिए अब हिंदी में भी आवेदन'

  • 24 अप्रैल 2017
पासपोर्ट इमेज कॉपीरइट MEA

नवभारत टाइम्स के मुताबिक पासपोर्ट के लिए अब हिंदी में भी आवेदन किया जा सकता है.

विदेश मंत्रालय के एक प्रावधान के तहत पासपोर्ट के लिए ऑनलाइन आवेदन अब हिंदी में किया जा सकता है.

राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने आधिकारिक भाषा पर आधारित संसदीय कमिटी की नौवीं रिपोर्ट में भाषा को लेकर की गई सिफारिशों को स्वीकार कर लिया है.

इसके बाद ये कदम उठाया गया है.

इमेज कॉपीरइट AFP

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक केंद्रीय सतर्कता आयोग यानी सीवीसी ने साल 2016 में कथित भ्रष्टाचार के 50 से अधिक मामले पकड़े और विभागों से कार्रवाई करने को कहा, लेकिन संबंधित विभागों ने किसी भी मामले में कार्रवाई शुरू नहीं हुई.

अखबार के मुताबिक सीवीसी ने इसी महीने ये सालाना रिपोर्ट सरकार को सौंपी है.

इनमें से कई मामलों में सीबीआई ने एफ़आईआर दर्ज की और निलंबन की सिफारिश की. लेकिन अख़बार के मुताबिक इन सिफारिशों की अनदेखी की गई.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इंडियन एक्सप्रेस जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने मुख्यमंत्रियों से उनके राज्यों में पढ़ रहे कश्मीरी छात्रों को सुरक्षा देने की अपील की है.

रविवार को नीति आयोग की बैठक में शामिल होने दिल्ली आई महबूबा की अपील का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी समर्थन किया है.

सोमवार को प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री मेहबूबा मुफ्ती की मुलाकात भी प्रस्तावित है.

पिछले दिनों राजस्थान और उत्तर प्रदेश में कई स्थानों पर कश्मीरी छात्रों के साथ मारपीट और उन्हें धमकाने के मामले सामने आए थे.

इमेज कॉपीरइट Getty Images
Image caption विशाल सिक्का

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक अमरीका ने कहा है कि भारत की बड़ी आईटी कंपनियां टीसीएस और इंफोसिस एच1बी वीजा का गलत तरीके से इस्तेमाल कर रही हैं.

ट्रंप प्रशासन ने 21 अप्रैल को कहा कि लॉटरी सिस्टम में ज्यादा से ज्यादा आवेदन कर ये कंपनियां एच1बी वीजा के कोटे में बड़ा हिस्सा हासिल कर लेती हैं.

हाल ही में अमरीकी सरकार ने लॉटरी सिस्टम की जगह योग्यता आधारित आव्रजन नीति लाने का इरादा जताया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)