'यू ...... इंडियन, बाहर निकलो'

इमेज कॉपीरइट Pooja Gujral

चंडीगढ़ की पूजा गुजराल और उनके मित्र जितेंद्र शाह ने जेट एयरवेज़ के अमरीकी पायलट पर नस्लवादी टिप्पणी और बदसलूकी करने के आरोप लगाए हैं.

दरअसल यह मामला 3 अप्रैल का है लेकिन सुर्ख़ियों में तब आया जब 26 अप्रैल को क्रिकेटर हरभजन सिंह ने ट्विटर पर इस घटना की निंदा की.

अमरीका: कैब ड्राइवर ने मुस्लिम सांसद से की 'बदसलूकी'

एयर इंडिया ने फिर रद्द किया गायकवाड़ का टिकट

पूजा गुजराल अपने विकलांग दोस्त जितेंद्र शाह के साथ 3 अप्रैल को चंडीगढ़ से मुंबई का सफ़र जेट एयरवेज़ से कर रही थीं.

मुंबई एयरपोर्ट पर पूजा के दोस्त जितेंद्र ने विशेष व्हीलचेयर की मांग की, तो पायलट ब्रेंट होएसलिन के व्यवहार ने उन्हें सदमें में डाल दिया.

पूजा ने बीबीसी को बताया ''जब मैंने कहा कि उन्हें व्हीलचेयर लाने की अनुमति हैं तो गुस्से में पायलट ने मुझे धक्का दिया और और अंग्रेज़ी मे कहा कि यू .... इंडियन, बाहर निकलो, मेरी फ्लाइट में देरी हो रही है.''

पूजा बताती हैं कि ''जब मैंने पायलट से कहा कि मुझे मत छुओ तो वो मुझे बार-बार छूकर कहने लगे कि मैं तुम्हें छू सकता हूं मैं फ्लाइट का कैप्टन हूँ, मैं जो चाहूं कर सकता हूँ.''

पूजा के मुताबिक जब उनके विकलांग दोस्त जितेंद्र ने पायलट की हरकत का विरोध किया तो पायलट ने हंसते हुए उनका मज़ाक उड़ाया.

पूजा कहती हैं कि लोग ख़ामोश तमाशा देख रहे थे, मैंने जब लोगों से मदद की गुहार लगाई तब कुछ लोगों ने पायलट को शांत रहने को कहा.

घटना के बाद पूजा ने इसकी शिकायत जेट एयरवेज़ से की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई.

इमेज कॉपीरइट Twittter

26 अप्रैल को हरभजन सिंह ने ट्विटर पर इस घटना की आलोचना की , हरभजन ने लिखा ' जेट एयरवेज़ के पायलट ब्रैंट होएसलिन ने मेरी भारतीय मित्र को ब्लडी इंडियन कहकर फ्लाइट से निकलने के कहा. जबकि वो ख़ुद यहां कमाते हैं.'

इमेज कॉपीरइट Twitter

एक और ट्वीट में उन्होने जेट एयरवेज़ से पायलट के ख़िलाफ़ कार्रवाई करने के लिए कहा.

इमेज कॉपीरइट Twitter

हरभजन ने ट्वीट किया कि वो ना सिर्फ़ नस्लवादी हैं बल्कि एक महिला और शारीरिक रुप से अक्षम व्यक्ति को शारीरिक रूप से नुकसान पहुंचाया. जेट एयरवेज़ के लिए ये शर्मनाक बात है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

हरभजन के ट्वीट के बाद जेट एयरवेज़ ने पायलट के ख़िलाफ़ कार्रवाई को लेकर ट्वीट किया.

इसमें लिखा है कि 'हम ऐसी घटनाओं को गंभीरता से लेते हैं, हमारे कर्मचारियों को लेकर हमारी कड़ी आचार संहिता है. कंपनी की नीति के अनुसार हम कार्रवाई करेंगे. हमने पायलट को घटना वाले दिन के बाद से ही उड़ान पर नहीं भेजा गया, जांच की जा रही है, हमने घटना से जुड़े यात्री से माफ़ी मांगी है और हम उन्हें जाँच के नतीजों की जानकारी दे देंगे.'

लेकिन पूजा गुजराल का कहना है कि कार्रवाई के नाम पर पायलट को कुछ दिनों के लिए उड़ान की लिस्ट हटाया है और कुछ नहीं किया गया है. उन्होने इस मामले में पुलिस में भी शिकायत की है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)