महिला अधिकारी ने कहा, आँसुओं को कमज़ोरी मत समझना

इमेज कॉपीरइट facebook/Charu Nigam

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संसदीय क्षेत्र गोरखपुर की अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक चारु निगम ने ड्यूटी के दौरान आंसू निकलने पर फ़ेसबुक पर सफ़ाई दी है.

सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में स्थानीय भाजपा विधायक राधामोहन अग्रवाल चारू निगम को डांटते हुए दिख रहे हैं.

इसी वीडियो में चारु निगम भी अपनी आंख से आंसू पोंछती हुई दिख रही हैं. वीडियो के सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद विधायक की भी आलोचना हुई थी.

सोमवार को किए गए पोस्ट में चारू निगम ने लिखा है, "मेरे आँसुओं को मेरी कमज़ोरी न समझना, कठोरता से नहीं कोमलता से अश्क झलक गए. महिला अधिकारी हूँ, ये तुम्हारा गुरूर न देख पाएगा, सच्चाई में है ज़ोर इतना अपना रंग दिखलाएगा."

चारु ने आगे लिखा, "उन सबके लिए जो मेरे समर्थन में खड़े हुए हैं. मेरे प्रशिक्षण में मुझे कमज़ोर होना नहीं सिखाया गया है. मैंने ये उम्मीद नहीं की थी कि मेरे एसपी सिटी गणेश साहा सर मेरी चोट के बारे में दिए जा रहे विवेकहीन तर्कों को तुरंत नकार देंगे. उनके आने से पहले मैं वहां सबसे वरिष्ठ पुलिस अधिकारी थी. जब वो आए और मेरे समर्थन में खड़े हुए तो मैं भावुक हो गई."

रविवार को गोरखपुर के कोईलहवा इलाक़े में ग्रामीण शराब की दुकानें बंद करवाने के लिए प्रदर्शन कर रहे थे.

प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प भी हुई थी जिसमें चारु निगम भी घायल हो गईं थीं.

पुलिस से मारपीट, 14 हिंदूवादी कार्यकर्ता गिरफ़्तार

'ख़ौफ़ देखा है मैंने अपने दोनों बच्चों की आंखों में'

इमेज कॉपीरइट facebook/Charu Nigam

मौके पर पहुंचे स्थानीय विधायक राधामोहन अग्रवाल ने चारू निगम पर महिलाओं को पीटने का आरोप लगाते हुए उनसे बदतमीजी से बात की थी.

इसी दौरान चारु निगम के आंसू छलक आए थे और वो रुमाल से चेहरा पोंछ रहीं थी. इसी घटना का वीडियो रविवार को वायरल हो गया था.

चारु निगम ने अपनी पोस्ट में लिखा, "मीडिया ने घटना को बिना तोड़े मरोड़े दिखाया मैं इसके लिए उनकी आभारी हूं."

उन्होंने लिखा, "मैं मानती हूं कि अच्छे को ही अच्छा मिलता है और इसलिए ही मीडिया ने मेरा समर्थन किया."

चारु निगम ने लिखा है कि वो ठीक हैं और उन्हें हल्की सी चोट लगी है.

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार आने के बाद से पुलिस पर नेताओं के रौब झाड़ने के कई मामले सामने आए हैं.

सहारनपुर में पुलिस अधीक्षक के घर तोड़फोड़ के आरोप भाजपा सांसद पर लगे थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)