जस्टिन बीबर से 'माफ़ी' क्यों मंगवाना चाहते हैं भारतीय

जस्टिन बीबर

कनाडाई पॉपस्टार जस्टिन बीबर को लेकर भारत में काफ़ी शोर था. वह पहली बार भारत आए थे. उनके आने की चर्चा भारत में दस्तक देने तक रही लेकिन भारत से जाने के बाद चर्चा उनसे दर्शकों की नाराज़गी के कारण है.

मुंबई का डीवाई पाटिल स्टेडियम 56 हज़ार लोगों की भीड़ से खचाखच भरा था. बीबर को सुनने के लिए आलिया भट्ट, सोनाली बेंद्रे, मलाइका अरोड़ा और श्रीदेवी भी पहुंची थीं.

तो बीबर के शो में ठगे गए भारतीय दर्शक?

जस्टिन बीबर: थैंक्यू इंडिया, मैं फिर आऊंगा

यह भीड़ बीबर को सुनने और देखने के लिए बेताब थी. उन्हें सुनने के लिए भारतीय प्रशंसकों ने पांच हज़ार रुपये से लेकर 75 हज़ार रुपये तक खर्च किया था.

23 साल के बीबर को लेकर डीवाई पाटिल स्टेडियम में दीवानगी शबाब पर थी. क्या दर्शकों की इस दीवानगी पर बीबर ने पानी फेर दिया?

जस्टिन बीबर के 5 'बवाल'

इमेज कॉपीरइट Twitter

लोगों का कहना है कि बीबर ने गया नहीं बल्कि लिप सिंकिंग किया. उन्होंने लिप सिंकिंग को छुपाने की भी कोशिश नहीं की. यहां तक कि वह गाने के बीच में तौलिया से मुंह पोंछते दिखे. स्टेज पर जैसी उनकी जैसी मौजूदगी थी उससे सब कुछ साफ़ दिख रहा था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

लोगों ने सोशल मीडिया पर आपत्ति दर्ज कराते हुए कहा है कि बिल्कुल भावहीन शो था. कई लोगों ने बीबर से भारतीय शो के लिए माफी की मांग की है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

भारत सवा अरब से ज़्यादा आबादी वाला देश है फिर भी यहां ग्लोबल मेगास्टार के आने की लिस्ट न के बराबर है.

ऐसे में लोग जस्टिन बीबर के आने से ख़ासे उत्साहित थे. हालांकि यह उत्साह बहुत देर तक कायम नहीं रहा. बीबर के कई प्रशंसकों ने सोशल मीडिया के ज़रिए अपनी निराशा जाहिर की है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

कई लोगों ने शिकायत की वे दूसरे राज्यों से बीबर को सुनने मुंबई पहुंचे थे लेकिन उन्होंने लिप सिंकिंग भी ठीक से नहीं किया. आशीष शाक्य ने अपनी एक लंबी फ़ेसबुक पोस्ट में लिखा है, ''जब बीबर तौलिया से अपना मुंह पोंछ रहे थे तब उनका पूरा चेहरा कवर हो गया था. इसी स्थिति में भी उनकी आवाज़ बिल्कुल नहीं बदली.''

एआईबी के कॉमीडीयन रोहन जोशी ने कहा भी बीबर की लिप सिंकिंग पर आपत्ति जतायी है. ट्वीटर पर लोगों ने कहा कि बीबर का शो बिल्कुल भावहीन था और वह घर के कपड़े पहनकर स्टेज पर आ गए थे. लोगों ने न केवल बीबर के ख़राब शो की शिकायत की है बल्कि वहां की मनमानी पर भी लोगों ने ग़ुस्सा निकाला है.

इमेज कॉपीरइट Twitter

एक लीटर पानी की बोतल 100 रुपये में मिल रही थी. इसके लिए भी बाहर लाइन लगी हुई थी.

स्टेडियम में पानी की बोतल लाने की अनुमति नहीं थी. पांच रुपये के वड़ा पांव 95 रुपए में बेचे जा रहे थे. स्टैंडअप कॉमीडीयन अतुल खत्री ने शिकायत की है कि ठंडे समोसे 200 रुपये में मिले.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे