ईवीएम हैकेथॉन में हिस्सा लेने की बात झूठी- बीईएल

  • 17 मई 2017
इमेज कॉपीरइट BEL

भारत इलेक्ट्रोनिक्स लिमिटेड यानी बीईएल ने कहा है कि बोत्सवाना में होने वाले ईवीएम हैकेथॉन में वो हिस्सा नहीं ले रही है.

बीईएल ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर इस ख़बर को "मनगढ़ंत और झूठा" बताया है और कहा है कि "बीईएल के बनाए ईवीएम को ले कर इस तरह का कोई हैकेथॉन आयोजित नहीं किया जा रहा है."

बीईएल उन दो भारतीय कंपनियों में से एक है जो भारतीय चुनाव आयोग के लिए ईवीएम मशीनें बनाती हैं.

भारत में बनी ईवीएम, बोत्सवाना में हैक करने की चुनौती

क्या है ईवीएम और पर्ची की व्यवस्था

इमेज कॉपीरइट AFP

'तथ्य ग़लत'

बीईएल ने इस संबंध में बोत्सवाना चुनाव आयोग की जारी की गई विज्ञप्ति के बारे में कहा है कि इसके लिए "हमारी सहमति नहीं ली गई और इसमें दिए तथ्य पूरी तरह से ग़लत हैं."

बीईएल ने ये भी कहा है कि उन्होंने "बोत्सवाना चुनाव आयोग को ना तो कोई ईवीएम मशीन और ना ही कोई वीवीपीएटी (वोटर वेरिफिएबल पेपर ऑडिर ट्रेल) मशीनें बेची हैं".

बोत्सवाना के राष्ट्रपति इयान खामा ने बीते साल चुनाव में ईवीएम के इस्तेमाल की इजाज़त दी थी. जिसके बाद देश में चुनाव कराने वाली संस्था इंडिपेंडेंट इलेक्ट्रॉल कमीशन (आईईसी) ने ईवीएम में छेड़छाड़ करके दिखाने के लिए हैकर्स को आमंत्रित किया था.

ईवीएम विवाद में पुराने आंकड़ों का मायाजाल

क्या ईवीएम के साथ छेड़छाड़ हो सकती है?

इमेज कॉपीरइट AFP

'अलग हैं मशीनें'

इसी महीने कुछ नयूज़ वेबसाइट ने ये ख़बर दी थी कि कंपनी का एक दल 18 तारीख को बोत्सवाना चुनाव आयोग के द्वारा किए जाने वाले हैकेथॉन में हिस्सा लेने वाली है.

वेबसाइट ITWEBAfrica में छपी रिपोर्ट के अनुसार इस हैकेथॉन में आईईसी और बीईएल की टीम ये जानकारी देने वाली हैं कि ईवीएम कैसे काम करता है.

इस पर बीईएल ने स्पष्टीकरण देते हुए कहा है, "बोत्सवाना सरकार ने अपनी ज़रूरतों के अनुसार ईवीएम के काम करने के तरीके समझाने के लिए बीईएल को आमंत्रित किया है. उनके ईवीएम भारत में इस्तेमाल होने वाले ईवीएम और वीवीपीएटी मशीनों से अलग हैं."

आप के ईवीएम डेमो को चुनाव आयोग ने किया ख़ारिज

मायावती ने हार का ठीकरा ईवीएम पर फोड़ा

इमेज कॉपीरइट EPA

इससे पहले चुनाव आयोग ने ईवीएम में गड़बड़ी के मुद्दे पर सर्वदलीय बैठक की थी और कहा था कि आयोग जल्द ही सभी राजनीतिक दलों को चुनौती देगा कि वो साबित करें कि हाल के चुनावों में इस्तेमाल किए गए ईवीएम हैक किए जा सकते हैं.

ईवीएम टैम्परिंग के लिए चुनाव आयोग की चुनौती

'दिल्ली विधानसभा में ईवीएम से छेड़छाड़ का लाइव डेमो'

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)