ट्विटर ने किया 'मजबूर' तो परेश रावल ने हटाया अरुंधति वाला ट्वीट

परेश रावल इमेज कॉपीरइट AFP

लेखिका अरुंधति रॉय पर विवादास्पद ट्वीट को डिलीट करने के लिए ट्विटर ने परेश रावल को 'मजबूर' किया.

भारतीय जनता पार्टी के सांसद और फ़िल्म अभिनेता परेश रावल ने बुधवार को एक बयान जारी ये दावा किया.

इस विवादास्पद ट्वीट में परेश रावल ने कहा था कि कश्मीरी नौजवान की जगह अरुंधति रॉय को आर्मी जीप से बांधा जाना चाहिए था.

हालांकि विवाद होने के बाद परेश रावल ने ये ट्वीट हटा लिया था. लेकिन परेश रावल अरुंधति पर अपने स्टैंड को लेकर पीछे हटने के मूड में नहीं दिख रहे हैं.

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
यह सवाल है उस कश्मीरी नौजवान का, जिसे मानव ढाल के तौर पर जीप के आगे बांध दिया था.

अपने बयान में परेश रावल ने कहा, "इस चिट्ठी के जरिए मैं अपने समर्थकों और देश के नागरिकों को बताना चाहता हूं कि मुझे अपना 21 मई वाला ट्वीट डिलीट करने के लिए मजबूर किया जा रहा है. नहीं तो ट्विटर मेरा एकांउंट ब्लॉक कर देगा."

डिलीट किए गए ट्वीट में परेश रावल ने लिखा था, "आर्मी जीप पर किसी पत्थरबाज़ को बांधने के बजाय अरुंधति रॉय को बांध दो."

आर्मी जीप पर एक कश्मीरी को बांधकर उसका इस्तेमाल मानव ढाल के तौर पर करने का मामले को लेकर पहले से विवाद जारी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)