मुठभेड़ में मारा गया बुरहान का दोस्त सबज़ार, कश्मीर में तनाव

कश्मीर इमेज कॉपीरइट YOUTUBE
Image caption सबज़ार बट और बुरहान वानी

भारत प्रशासित कश्मीर के त्राल में सुरक्षाबलों के साथ गोलीबारी में चरमपंथी संगठन हिज़्बुल मुजाहिदीन के शीर्ष कमांडर और बुरहान वानी के करीबी सहयोगी सबज़ार बट के मारे जाने की ख़बर है. त्राल जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर के दक्षिण में 30 मील की दूरी पर है.

पुलिस सूत्रों ने शनिवार तड़के प्रतिबंधित हिज़्बुल मुजाहिदीन के तीन लड़ाकों के घेरने की पुष्टि की. एक शीर्ष पुलिस अधिकारी ने बीबीसी से कहा कि मारे गए तीन चरमपंथियों की पहचान सबज़ार, फ़ैज़ान और आदिल के रूप में हुई है. ये तीनों दक्षिणी कश्मीर के थे.

कश्मीर: रामपुर सेक्टर में सेना के साथ मुठभेड़ में 6 चरमपंथियों की मौत

सबज़ार की मौत की ख़बर आने के बाद से पूरे कश्मीर में तनाव फैल गया है. सुरक्षाबलों द्वारा सबज़ार के मारे जाने से शहर में तनाव की स्थिति है. अधिकारियों का कहना है कि अगर विरोध-प्रदर्शन हुआ को फ़ोन औऱ इंटरनेट सेवा बंद की जा सकती है.

बुरहान वानी, जिसकी मौत के बाद उबला कश्मीर..

बुरहान वानी के पिता श्री रविशंकर से मिले

इमेज कॉपीरइट Getty Images

चश्मदीदों का कहना है कि बड़ी संख्या में लोग पहले से ही मुठभेड़ स्थल पर पहुंच गए हैं.

पिछले साल आठ जुलाई को बुरहान वानी सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारे गए थे. वानी के मारे जाने के बाद घाटी में महीनों तक हिंसा और अशांति का माहौल रहा था. आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि सुरक्षाबल 2016 जैसे हालात न बने, इन्हीं कोशिशों में जुटे हुए हैं.

पिछले कुछ महीनों में 100 से ज़्यादा लड़के चरमपंथी गुटों में शामिल हुए हैं. शीर्ष पुलिस अधिकारियों ने इसकी पुष्टि की है.

हिज़्बुल मुजाहिदीन प्रमुख रूप से दक्षिणी कश्मीर में सक्रिय है. यहां ज़ाकिर मुसा बट के हाथों में हिज़्बुल की कमान है. ज़ाकिर इंजीनियरिंग ग्रैजुएट और संपन्न परिवार से हैं. यहां अब भी सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ जारी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे