प्रेस रिव्यू: अक्षय कुमार और साइना को नक्सलियों की धमकी

  • 29 मई 2017
इमेज कॉपीरइट Getty Images

द एशियन एज ने लिखा है कि माओवादियों ने पर्चा जारी कर फ़िल्म अभिनेता अक्षय कुमार और बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल को धमकी दी है कि वे आगे से नक्सली हमले में मारे गए जवानों के परिवारों को आर्थिक मदद न दें.

छत्तीसगढ़ के सुकमा में पिछले दिनों हुए नक्सली हमले में केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल यानी सीआरपीएफ़ के 25 जवानों की मौत हो गई थी. अक्षय कुमार और साइना नेहवाल ने मारे गए जवानों के परिजनों को आर्थिक सहायता देने की घोषणा की थी.

पर्चे में कहा गया है कि पीपुल्स लिबरेशन गुरिल्ला आर्मी यानी पीएलजीए अक्षय और साइना की सहायता राशि देने के कदम की निंदा करती है.

हालाँकि किसी स्वतंत्र स्रोत से इस पर्चे की पुष्टि नहीं हुई है.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

हिंदुस्तान टाइम्स ने लिखा है वामपंथी शासन वाले केरल के कन्नूर में शनिवार को बीफ़ फ़ेस्टिवल ने घिनौना मोड़ ले लिया.

युवा कांग्रेस के कुछ नेताओं ने लोगों के सामने ही 'गायों को काटा' और पका हुआ मांस बांटा. इस मामले में 16 कथित अभियुक्तों के ख़िलाफ़ आईपीसी की धारा 428 (जानवरों को मारना या अपंग करना) और पशु क्रूरता निवारण अधिनियम 1960 के तहत मुक़दमा दर्ज किया गया है.

धारा 428 के तहत दोषी पाए जाने वाले को दो साल तक की जेल और जुर्माना हो सकता है.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि, ''जो कुछ भी केरल में हुआ वो विचारहीन, बर्बरतापूर्ण और मेरे लिए व कांग्रेस पार्टी के लिए पूरी तरह अस्वीकार्य है.''

इमेज कॉपीरइट PIB
Image caption आर्मी चीफ़ बिपिन रावत

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर में उनकी सेना 'गंदे, प्रॉक्सी वॉर' से जूझ रही है, जो कि नए तरीकों से लड़ा जा सकता है.

सेना प्रमुख ने ये कहकर बडगाम में पिछले महीने ख़ूनख़राबा रोकने के लिए मेजर लीतुल गोगोई के विवादास्पद मानव ढाल बनाए जाने का बचाव किया. अख़बार लिखता है कि पीटीआई को दिए गए इंटरव्यू में जनरल रावत ने कहा कि मेजर गोगोई को सम्मानित करने का मुख्य उद्देश्य युवा अधिकारियों का मनोबल बढ़ाना था जो मुश्किल परिस्थितियों में काम करते हैं.

इमेज कॉपीरइट EPA

अमर उजाला ने लिखा है भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन यानी इसरो दुनिया का सबसे भारी रॉकेट बना रहा है जिसका वज़न 200 हाथियों के बराबर होगा.

अख़बार लिखता है, 'इसरो की ये योजना कामयाब रही तो रूस, अमरीका, और चीन के बाद भारत अंतरिक्ष में क़दम रखने वाला चौथा देश बन जाएगा.'

इस योजना को सफल बनाने के लिए इसरो आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा में ऐसे स्वदेशी रॉकेट जीएसएलवी मार्क-3 को विकसित कर रहा है जिसका वज़न पूरी तरह विकसित 200 एशियाई हाथियों के बराबर होगा.

जनसत्ता ने लिखा है कि दिल्ली की एक अदालत ने कंगाल होने के आधार पर अपनी तलाकशुदा पत्नी को 7500 रुपए गुज़ारा भत्ता देने में असमर्थता जताने वाले एक व्यक्ति की याचिका को ख़ारिज कर दिया. अदालत ने याचिका ख़ारिज करते हुए कहा कि ऐसे लोग शादी करने का फ़ैसला करके किसी और की ज़िंदगी बर्बाद करते हैं.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे