सोशल: 'पुलिस टॉर्चर कर रही है, करंट लगा रही है, थर्ड डिग्री दे रही है'

  • 3 जून 2017
इमेज कॉपीरइट Somnath Patra

भीम आर्मी के चीफ एडवोकेट चंद्रशेखर उर्फ रावण ने सोशल मीडिया के ज़रिए उत्तर प्रदेश पुलिस और प्रदेश सरकार को चेतावनी दी है.

सरधास के फ़ेसबुक पन्ने पर चंद्रशेखर ने 2 मिनट का एक वीडियो पोस्ट किया है. वीडियो में उन्होंने कहा है कि गुरुवार को उनकी मां और भाई को गिरफ्तार किया गया है.

उनका आरोप है, "पुलिस शोषण की सारी हदें पार कर रही है और अपनी तरफ से एकतरफा कार्रवाई कर रही है."

सहारनपुर के एसएसपी बबलू कुमार ने बीबीसी को बताया कि पुलिस को फिलहाल इस वीडियो की जानकरी नहीं है.

'द ग्रेट चमार' का बोर्ड लगाने वाले 'रावण'

दलितों का प्रदर्शन, 'संघ'वाद से आज़ादी के नारे

चंद्रशेखर ने पुलिस पर सरकार के दवाब ने काम करने का आरोप लगाया है और चेतावनी दी है कि बहुत हो गया, अब ये काम बंद कर दीजिए, ऐसा ना हो कि कछ ऐसा हो जाए जिसकी आपने कल्पना भी नहीं की हो."

उन्होंने कहा है ,"उनके संगठन के युवाओं को पुलिस पकड़ रही है, उन्हें टॉर्चर कर रही है, करंट लगा रही है, थर्ड डिग्री दे रही है."

उन्होंने शांति की अपील की है और कहा है "हम संविधान का पालन करते हैं, कमज़ोर नहीं है. हम लोग अपनी पर आए तो आपको दिक्कत हो जाएगी."

उनके इस पोस्ट को अबतक लगभग 6000 बार शेयर किया जा चुका है ओर 19 हज़ार लोगों ने इसे देखा है. कई लोग इस पर टिप्पणी भी कर रहे हैं.

जोगिंदर सिंह काजल ने लिखा, "मनुवादियों अब तुम्हारे देवता भी भीम आर्मी का बाल बांका नहीं कर सकते."

सीएन जोशी वधावन ने भीम आर्मी को चेताया है, "ये आरएसएस की एससी-एसटी, ओबीसी और इस्लामी धर्मों पर दबाव बनाने की रणनीति लग रही है. आप सब संभल कर कोई फ़ैसला लें. कोई फ़ैसला जल्दबाज़ी में ना करें."

ख़ान ने लिखा, "सोशल मीडिया से जुड़े रहें भीम आर्मी की ताकत बढ़ाने के लिए हम पूरा सहयोग करेंगे."

सचिन खड़किया ने लिखा, "कुछ भी हो हम आपके साथ हैं."

राम चंद्र लिखते हैं, "पूरे देश मे भीम आर्मी का गठन करके पूरे देश से एक साथ आंदोलन खड़ा करना है."

इस फ़ेसबुक पन्ने पर अधिकतर लोग चंद्रशेखर की बात क समर्थन करते दिख रहे हैं. कुछ ही हैं जो उनसे सहमत नहीं है.

संजय शांडिल्य लिखते हैं, "सब अपनी-अपनी आर्मी बना कर लड़ो, देश गया भाड़ में."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे