'मैं बेगुनाह हूं, यह समझाने में 17 साल लगे'
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

'मैं बेगुनाह हूं, यह साबित करने में 17 साल लगे'

भारत प्रशासित कश्मीर के बारामुला ज़िले के टॉपरपटन गांव के गुलज़ार अहमद वानी को सत्रह साल बाद अदालत ने कुछ दिनों पहले बरी किया है.

साल 2000 में उन्हें साबरमती एक्सप्रेस ट्रेन में धमाके करने के इल्ज़ाम में दिल्ली के आज़ादपुर इलाके से गिरफ़्तार किया गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे