प्रेस रिव्यू- 'बहुत चतुर बनिया था, कांग्रेस की कमज़ोरी जानता था'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इंडियन एक्सप्रेस भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने महात्मा गांधी को 'चतुर बनिया' बताया है.

शुक्रवार को छत्तीसगढ़ के रायपुर में एक कार्यक्रम में अमित शाह ने कहा, "गांधी चतुर बनिया था. गांधी को मालूम था कि कांग्रेस का आगे क्या हश्र होने वाला है, इसीलिए उन्होंने आज़ादी के बाद तुरंत कहा था कि कांग्रेस को बिखेर देना चाहिए. महात्मा गांधी ने नहीं किया, लेकिन अब कुछ लोग उसको बिखेरने का काम समाप्त कर रहे हैं. इसलिए ही कहा था महात्मा गांधी ने, क्योंकि कांग्रेस की कोई आइडियोलॉज़ी ही नहीं थी, सिद्धांतों के आधार पर बनी हुई पार्टी ही नहीं थी."

इमेज कॉपीरइट Getty Images

स्टेट्समैन के मुताबिक़ मेट्रो में जेबकतरों की तादाद तिगुनी हो गई है और पकड़े गए लोगों में 90 फ़ीसदी महिलाएं हैं. ख़बर के अनुसार पिछले पाँच महीने में 521 जेबकतरे पकड़े जा चुके हैं जिनमें 401 महिलाएं और 120 पुरुष हैं. ये पिछले साल जनवरी से मई के दौरान पकड़े गए जेबकतरों की तुलना में तीन गुने हैं.

जनसत्ता के मुताबिक़ गुजरात की हिंदी पाठ्यपुस्तक के एक अध्याय में ईसा मसीह के आगे 'भगवान' के बजाय 'हैवान' शब्द है, जिसे लेकर ईसाई समुदाय ने कड़ी आपत्ति जाहिर की है. किताब का प्रकाशन गुजरात राज्य स्कूल पाठ्यपुस्तक बोर्ड ने किया है. बोर्ड के कार्यकारी अध्यक्ष नितिन पेठानी ने कहा है कि यह मुद्रण संबंधी भूल है और इसकी अंदरूनी जाँच की जाएगी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

स्टेट्समैन के मुताबिक़ नगा विद्रोही गुट एनएससीएन-के के अध्यक्ष एसएस खापलांग का शुक्रवार रात म्यांमार के कचिन राज्य के टक्का में निधन हो गया.

मणिपुर में सेना के 18 जवानों को मारने सहित सुरक्षा बलों पर कई हमलों के मास्टरमाइंड माने जाते रहे खापलांग की उम्र 77 साल थी. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि नेशनलिस्ट सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नगालैंड (खापलांग) के नेता का निधन दिल का दौरा पड़ने की वजह से हुआ. वह कुछ समय से बीमार भी थे.

शांगवांग शांगयुंग खापलांग म्यांमार के हेमी नगा थे और उनका ज़्यादातर समय उसी देश में गुजरा. म्यांमार में एनएससीएन-के के कई शिविर हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे