दक्षिण कश्मीर में तीन चरमपंथी, एक नागरिक की मौत

कश्मीर में प्रदर्शनकारी की मौत इमेज कॉपीरइट Majid Jahangir
Image caption सुरक्षाबलों के साथ झड़प में 22 वर्षीय प्रदर्शनकारी तौसीफ़ अहमद वाणी की मौत हो गई है.

भारत प्रशासित कश्मीर में प्रदर्शनों के दौरान गुरूवार को एक युवक की मौत हो गई है.

इसके अलावा दक्षिणी कश्मीर के ज़िला पुलवामा के काकापोरा में बुधवार रात लश्कर-ए-तैयबा के तीन चरमपंथी सुरक्षा बलों के साथ एक मुठभेड़ में मारे गए हैं.

मुठभेड़ में चरमपंथियों की मौत के बाद इलाक़े में लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया है. सुरक्षाबलों और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़पें भी हुई हैं.

सुरक्षाबलों की ओर से चलाए गए पेलेट गन में 22 वर्षीय युवा तौसीफ़ अहमद वाणी घायल हुआ था जिसने बाद में दम तोड़ दिया.

काकापोरा, अवंतीपोरा के अलावा पुलवामा में भी कई जगह झड़पों की ख़बरें हैं. इन प्रदर्शनों में कई लोग घायल बताए जा रहे हैं.

फिर से 90 के दौर में लौट रहा है कश्मीर?

कश्मीर: चरमपंथी हमले में पुलिस अधिकारी समेत छह की मौत

इमेज कॉपीरइट Majid Jahangir
Image caption सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारे गए तीनों चरमपंथी स्थानीय निवासी हैं.

वहीं मारे गए चरमपंथियों के अंतिम संस्कार में भी बड़ी तादाद में लोग शामिल हुए हैं. तीनों चरमपंथी स्थानीय निवासी थे और लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े थे.

इनकी पहचान माजिद, शारिक़ और शिराज़ अहमद के रूप में हुई है.

चरमपंथियों के जनाज़े में शामिल लोगों ने कश्मीर की आज़ादी के नारे भी लगाए.

अवंतीपोरा और काकापोरा में झड़पों और प्रदर्शनों की वजह से श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर यातायात भी प्रभावित रहा.

सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में प्रदर्शनकारी की मौत

शिया-सु्न्नी मोहब्बत देखनी है तो कश्मीर आएं!

इमेज कॉपीरइट Majid Jahangir
Image caption मारे गए चरमपंथियों के अंतिम संस्कार में बड़ी तादाद में लोग शामिल हुए हैं.

अनंतनाग से श्रीनगर जा रहे एक यात्री ने बीबीसी को बताया, "हमें काफी देर तक अवंतीपोरा के नज़दीक गाड़ी में रुकना पड़ा, वहां लोगों और सुरक्षा बलों के बीच प्रदर्शन और झड़पें हो रही हैं. बहुत देर तक इंतज़ार करने के बाद हमें वापस अनंतनाग लौटना पड़ा. सैकड़ों गाड़ियों को हाइवे पर ही रोक दिया गया है."

तनाव के मद्देनज़र प्रशासन ने लोगों के आवागमन पर रोक लगा दी है और इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी गई हैं. श्रीनगर-अनंतनाग और श्रीनगर-बारामूला रेल सेवा को भी बंद कर दिया गया है.

सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में प्रदर्शनकारी की मौत

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption कश्मीर में कई पुलिसकर्मी चरमपंथी हमलों में मारे जा चुके हैं.

दक्षिणी कश्मीर चरमपंथ का गढ़ बना हुआ है. मारे गए हिज़बुल कमांडर बुरहान वानी भी इसी इलाक़े के थे और उनकी मौत के बाद यहां लंबे समय तक प्रदर्शन होते रहे.

बुधवार को भी उत्तरी कश्मीर के सोपोर में हिज़बुल मुजाहिदीन के दो चरमपंथी मुठभेड़ में मारे गए थे.

'कश्मीर की तरह मानवता को आज़ादी चाहिए'

'धर्म कोई भी हो, कश्मीर में बहुत भाईचारा है'

भारत प्रशासित कश्मीर में बीते महीनों में चरमपंथी वारदातों में बढ़ोत्तरी हुई है. सुरक्षाबलों के अभियान भी तेज़ हुए हैं.

बीते एक महीने में कई बड़े चरमपंथी कमांडर सुरक्षाबलों के हाथों मारे गए हैं. बीते चार महीनों में चरमपंथी हमलों में 16 पुलिसकर्मी भी मारे गए हैं.

कश्मीर में एक साथ कई चरमपंथी हमले

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे