7वें वेतन आयोग की सिफ़ारिशें मंज़ूर, किसे होगा फ़ायदा?

वित्त मंत्री अरुण जेटली इमेज कॉपीरइट Getty Images

बुधवार को केंद्रीय कैबिनेट ने सातवें वेतन आयोग में उच्च भत्तों की सिफारिशों को मंज़ूरी दे दी.

इससे केंद्र सरकार के 50 लाख कर्मचारियों और सैन्य कर्मियों को लाभ मिलेगा. शहरों के हिसाब से बेसिक तनख़्वाह का 24%, 16% और 8% बतौर एचआरए मिलेगा. एचआरए 5,400, 3,600 और 1,800 रुपये से कम नहीं होगा.

सातवें वेतन आयोग से कर्मचारी नाराज़ क्यों?

जिन भत्तों में बढ़ोतरी की गई

  • सियाचिन में ड्यूटी पर लगे सैनिकों का भत्ता 14,000 से बढ़ाकर 30,000 प्रति महीना कर दिया गया है.
  • जोखिम वाले जगहों और कठिन ड्यूटी पर तैनात ऑफिसरों को मिलने वाले भत्तों में भी बढ़ोतरी की गई. अब इन्हें हर महीने 21,000 के बदले 42,500 रुपए मिलेगा.
  • पेंशनभोगियों को तय मेडिकल भत्ता अब 500 के बदले एक हज़ार रुपए मिलेगा.
  • युद्ध में 100 फ़ीसदी विकलांग होने के बाद मिलने वाले भत्ते को भी 4,800 से बढ़ाकर 7,200 कर दिया गया है.
  • ऑपरेशन थियेटर भत्ता भी अब हर महीने 360 रुपये के बजाय 540 रुपये मिलेगा.
  • पेशंट केयर भत्ता को भी अब हर महीने 2,070 से बढ़ाकर 4,100 और 2,100 से बढ़ाकर 5,300 कर दिया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे