'ये मेरा हिंदुस्तान नहीं'
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

'ये मेरा हिंदुस्तान नहीं'

बुधवार को दिल्ली के जंतर मंतर पर एकत्र करीब डेढ़ हज़ार लोगों की मांग है कि दूसरे धर्मों को लोगों को ले कर देश में असहिष्णुता का जो माहौल बना है वो उनका देश नहीं है.

हाथों पर काली पट्टियां बांधे ये लोग लिंचिंग यानी भीड़ द्वारा पीट-पीट कर लोगों को मारे जाने के मुद्दे पर सरकार और राजनीतिक पार्टियों की चुप्पी के ख़िलाफ़ सड़कों पर उतरे हैं.

जमा हुए प्रदर्शनकारियों में पत्रकार, प्रोफ़ेसर, डॉक्टर, बिज़नेसमैन समेत रिटायर्ड फौजी भी मौजूद थे.