यूट्यूब पर हिंदी में मैथ सिखाने वाली लड़की

एमटीएच फार यू इमेज कॉपीरइट Youtube

1150 रुपये का बोर्ड, 25 का मार्कर, 20 का डस्टर और दोस्त का कैमरा. इतनी पूंजी लगी. फिर अपनी मेहनत. फ्री इंटरनेट का ऑफर और कुछ नया करने की तमन्ना. बस ऐसे ही शुरू हो गया 'एमटीएच फ़ॉर यू (MTH4U).' हिंदी में गणित सिखाने का अनोखा 'यू ट्यूब चैनल.'

झारखंड के युवाओं ने ये यू ट्यूब चैनल शुरू किया है. इस चैनल के सब्सक्राइबर्स डेढ़ लाख से भी अधिक हैं. औसतन एक हजार नए लोग रोज़ इससे जुड़ते हैं. व्यूज के बढ़ने के कारण 'यू ट्यूब' ने अब इन्हें पैसे देना भी शुरू कर दिया है. इसको शुरू किया है महज 25 साल उम्र की श्रद्धा मिंज और संजय मुर्मू ने. दोनों आदिवासी युवा रांची में रहकर पढ़ाई करते हैं.

दोस्त हैं और अपनी दोस्ती में क्रिएटिविटी लाने के ख्याल से यह काम कर रहे हैं. श्रद्धा मिंज रांची के बिरसा एग्रिकल्चर यूनिवर्सिटी में वेटेनरी की पढ़ाई कर रही हैं. इससे पहले वे पढ़ाई के साथ-साथ अपने मोहल्ले के ग़रीब बच्चों को ट्यूशन भी पढ़ाया करती थीं.

हम सिखा रहे हैं लड़की का 'नहीं', मतलब 'नहीं'?

लड़कियां बनी टॉपर, अब हम लड़कों का क्या होगा?

इमेज कॉपीरइट Nandini Sinha
Image caption श्रद्धा मिंज और संजय मुर्मू

फ्री इंटरनेट की स्कीम

उन्होंने बताया कि इसमें उन्हें मज़ा आने लगा. इसी दौरान पिछले साल एक कंपनी ने फ्री इंटरनेट की स्कीम शुरू की, तो लगा कि इसका सदुपयोग करना चाहिए. तब मुझे गणित को हिन्दी में सिखाने के लिए यू ट्यूब चैनल शुरू करने का ख्याल आया.

श्रद्धा मिंज ने कहा, "मैंने अपने दोस्त संजय मुर्मू से यह बात डिस्कस की. वह इस चैनल के टेक्निकल पक्ष को संभालने पर राजी हुआ. फिर घरवालों को समझाया. इसके बाद एक अक्तूबर 2016 को मैंने पहला वीडियो अपलोड कर दिया. इसको साढ़े तीन लाख लोगों ने देखा. इसमें हमने वर्ग मूल (स्क्वायर रूट) निकालने की विधि समझाई थी."

वो बताती हैं, "इसके बाद हमने कई वीडियो अपलोड किए. हमारे सब्सक्राइबर भी लगातार बढ़ते चले गए. मेरे एक वीडियो को तो 35 लाख 84 हज़ार लोगों ने देखा. अब हमलोग दूसरे विषयों के भी ट्यूटोरियल वीडियोज अपलोड करने की योजना बना रहे हैं."

'लड़कों से दोस्ती के शक में थिएटर छुड़वा दिया'

नौटंकी में नाचने वाली लड़कियों की ज़िंदगी

इमेज कॉपीरइट NAndini Sinha

हिंदी में यूट्यूब चैनल

श्रद्धा मिंज ने बताया, "मैंने रांची के जेवीएम श्यामली से पढ़ाई की थी. महेंद्र सिंह धोनी वहां के एल्यूमनाई हैं. मैंने अंग्रेजी माध्यम से पढ़ा. लेकिन, मेरे मोहल्ले के वैसे बच्चे जो हिन्दी मिडियम के स्कूलो में पढ़ते हैं, उन्हें मैंने हीन भावना का शिकार होते देखा है. उन्हें लगता था कि वे गणित तो समझ ही नहीं सकते, क्योंकि अधिकतर किताबें अंग्रेजी मे थी. लिहाजा, मैंने उन्हें हिन्दी में गणित सिखाना शुरू कर दिया."

एमटीएच फ़ॉर यू का तकनीकी पक्ष देखने वाले संजय मुर्मू रांची के एक कॉलेज में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि उनका एक दोस्त मास कम्यूनिकेशन की पढ़ाई कर रहा था. उसके पास कैमरा था और वीडियो बनाने की जगह भी. इससे हमें सहायता मिली.

संजय मुर्मू ने बीबीसी से कहा, "मुझे वीडियो एडिटिंग में मजा आता है. जब श्रद्धा ने मुझसे कहा कि वे गणित सिखाने के लिए हिंदी में यूट्यूब चैनल शुरू करना चाहती हैं, तब मुझे बहुत खुशी हुई. मुझे मेरे मन का काम मिल रहा था. फिर मैंने झट से हामी भर दी. अब यू ट्यूब से पैसे मिलने के बाद हमलोगों ने अपना कैमरा ख़रीद लिया है और अलग स्टूडियो बनाना चाह रहे हैं. क्योंकि, अभी तक के वीडियो तो हमने अपने या दोस्त के घर में शूट कर लिए."

भागी हुई लड़कियां: जब प्यार किया तो डरना क्या?

वायरल हो गया लड़की के इश्क़ का इज़हार

इमेज कॉपीरइट NAndini Sinha
Image caption परिवारवालों के साथ श्रद्धा मिंज

चैनल की सब्सक्राइबर

श्रद्धा मिंज और संजय मुर्मू ने बताया कि उनके सब्सक्राइबर यूं तो 208 देशों में फैले हैं. लेकिन, सबसे अधिक सब्सक्राइबर भारत और नेपाल जेसे देशों के छात्र हैं.

इन्होंने बताया कि सब्सक्राबर कई दफा उन्हें मेल करके अपनी पसंद के विषय पढ़ाने की मांग करते हैं. हम इसका ख्याल रखते हैं कि गणित से संबधित जिज्ञासाओं का समाधान कर सकें. अभी हमलोग बारहवीं तक के छात्रों के सिलेबस के मुताबिक वीडियो बना रहे हैं.

सुनीता एक्का नामकुम के एक स्कूल में आठवीं कक्षा की छात्रा हैं और इस चैनल की सब्सक्राइबर भी. उन्होंने बताया कि क्लास से पढ़ के आने के बाद यह चैनल देख लेने से गणित ज्यादा बेहतर समझ में आता है.

'उत्तर भारत की लड़कियों के कई बॉयफ्रेंड होते हैं'

17 साल की लड़की ने बना दी ये ख़ास मशीन

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)