प्रेस रिव्यू- बुरहान वानी की याद में रैली ब्रिटेन में रद्द

जनसत्ता ने लिखा है कि ब्रिटेन में चरमपंथी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन के कमांडर बुरहान वानी की याद में होने वाली रैली रद्द कर दी गई है.

भारत ने इस संबंध में कड़ा विरोध दर्ज कराया था, जिसके बाद बर्मिंघम सिटी काउंसिल ने बुधवार को आयोजकों को दी गई इजाज़त वापस ले ली.

भारत ने सोमवार को इस संबंध में ब्रिटेन से अनुरोध किया था कि वो काउंसिल हाउस के बाहर होने वाले 'कश्‍मीर रैली' नाम के कार्यक्रम को रोके.

कार्यक्रम के पोस्‍टर्स और घोषणाओं में वानी की तस्‍वीर का इस्‍तेमाल किया गया था जिसे सुरक्षा बलों ने 8 जुलाई, 2016 को एक मुठभेड़ में मार दिया था.

बर्मिंघम काउंसिल के प्रवक्‍ता ने हिंदुस्‍तान टाइम्‍स से बातचीत में कहा, "हमने कश्‍मीर में मान‍वाधिकार उल्‍लंघन को लेकर शांतिपूर्ण रैली की बुकिंग की थी. हालांकि अब हमें पता है कि प्रमोशनल लीफलेट के बारे में क्‍या चिंताएं हैं, मामले का अंदाजा लगाने के बाद, हमने विक्‍टोरिया स्‍क्‍वायर के इस्‍तेमाल की इजाज़त नहीं दी है."

हिजबुल कमांडर बुरहान वानी की मौत

अख़बार ने लिखा है कि बुरहान वानी की मुठभेड़ के एक साल पूरे होने के मौके पर भारत प्रशासित कश्मीर में सुरक्षा बल सतर्क हो गए हैं.

पिछले साल बुरहान वानी की मौत के बाद कश्मीर घाटी में हिंसा का दौर चल पड़ा था.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

हिंदुस्तान टाइम्स ने लिखा है कि नोएडा में मनोज शर्मा नाम के एक शख्स का मोबाइल फ़ोन 12 जून को तीन मोटर साइकिल सवारों ने छीन लिया था.

मनोज का कहना है कि मोबाइल चोर अपनी सेल्फ़ी उनके गूगल ड्राइव में अपलोड कर रहा है, क्योंकि उनके फ़ोन की फ़ोटो गैलरी उनके गूगल ड्राइव अकाउंट के सिंक किया गया है.

वो कहते हैं कि गूगल ड्राइव में संदिग्ध मोबाइल चोर अपनी सेल्फ़ी पोस्ट कर रहा है लेकिन पुलिस ने अभी तक कोई कदम नहीं उठाया है.

मोबाइल के ग्लोबल पोज़िशनिंग सिस्टम से फ़ोन की लोकेशन का भी पता चल रहा है लेकिन संदिग्ध चोर अभी पकड़ा नहीं जा सका है.

'ये सेल्फी नहीं, दर्दभरी कहानी है'

इमेज कॉपीरइट ABIR SULTAN/AFP/GETTY IMAGES

इंडियन एक्सप्रेस ने लिखा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसराइल यात्रा के दूसरे दिन तेल अवीव में एक कार्यक्रम में भारतीय मूल के लोगों को ओसीआई कार्ड देने की घोषणा की है.

मोदी ने कहा कि जिन लोगों ने इसराइल में अनिवार्य सैनिक ट्रेनिंग ली है उन्हें भी ओवरसीज़ सिटिज़नशिप ऑफ़ इंडिया (ओसीआई) दिया जाएगा.

तेल अवीव में भारतीय मूल के चार हज़ार लोगों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा," मैंने यहां पर भारतीय मूल के लोगों को ओसीआई कार्ड नहीं मिलने की शिकायतें सुनी हैं, लेकिन अगर अगर रिश्ता दिल से दिल का हो तो कागज़ात की ज़रूरत नहीं होती."

उन्होंने कहा कि जिन्होंने इसराइल में अनिवार्य सैनिक ट्रेनिंग ली है उन्हें भी ओसीआई कार्ड मिलेगा. भारतीय नियमों के मुताबिक वो अपने पीआईओ कार्ड बदलकर ओसीआई कार्ड नहीं बदल सकते थे.

इमेज कॉपीरइट AFP

जनसत्ता के मुताबिक चीन ने कहा कि भारत अपने सैनिकों को वापस बुलाकर अपनी गलतियों को सुधारे.

चीन ने भारत पर पंचशील को कुचलने का आरोप लगाया है.

चीन ने बुधवार को कहा कि भारत यह कहकर 'आम लोगों को गुमराह' कर रहा है कि सिक्किम सेक्टर में 'सिक्किम गलियारा' या 'चिकन्स नेक' के पास चीनी जवान सड़क का निर्माण कर रहे हैं जो पूर्वोत्तर राज्यों में भारत की पहुंच के लिये ख़तरा बन सकता है.

भारत और चीन के बीच तनातनी की वजह क्या है?

प्रेस रिव्यू: भारत-चीन तनाव: और सैनिकों की तैनाती

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जेंग शुआंग ने बताया, '1890 की चीन-ब्रिटिश संधि की अवमानना करते हुए भारतीय पक्ष ने कहा कि डोक ला तीन देशों के तिराहे के क्षेत्र में स्थित है, यह जनता को गुमराह करना है''

उन्होंने कहा, ''1890 की संधि कहती है कि सिक्किम क्षेत्र की सीमा पूर्वी पहाड़ियों से शुरू होती है और यह घटना (सड़क निर्माण की) गिपमोची पर्वत से करीब 2000 मीटर दूर हुई है.''

इमेज कॉपीरइट SANJAY DAS

हिंदुस्तान टाइम्स ने कहा है कि पश्चिम बंगाल के बसीरहाट सब डिविज़न में सांप्रदायिक हिंसा में कम से कम 23 लोग घायल हो गए हैं. विवाद एक फेसबुक पोस्ट से शुरू हुआ था जिसमें कथित तौर पर एक समुदाय की भावनाओं को ठेस पहुंचाई गई थी.

कोलकाता से 65किलोमीटर दूर नॉर्थ 24 परगना ज़िले में लोगों ने दुकानों, घरों और पुलिस स्टेशन में आग लगा दी.

हिंसा के तीन दिन बीत जाने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दंगाइयों को चेतावनी दी. उन्होंने पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी पर बीजेपी ब्लॉक प्रमुख की तरह बर्ताव करने का आरोप लगाया है.

राज्यपाल की भाषा से अपमानित महसूस कर रही हूं': ममता बनर्जी

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे