लेस्बियन होने की झूठी ख़बर पर गंवानी पड़ी नौकरी

घरेलू हिंसा इमेज कॉपीरइट Getty Images

घरेलू वजहों से लड़कियों का नौकरी छोड़ना कोई नई बात नहीं है. बेंगलुरु में दो सहेलियों के साथ जो हुआ वो वाकई चौंका देने वाली घटना है.

ये कहानी एक लड़की की है जिस पर शादी के लिए घरवालों का बहुत दबाव था. वो पढ़ना चाहती थी, काम करना चाहती थी लेकिन घरवाले इसके लिए तैयार नहीं थे.

एक रोज उसने अपने मां-बाप का घर छोड़ दिया. फिर लड़की के पिता ने पुलिस में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई.

और ठीक उसी वक्त लड़की ने भी महिला अधिकारों के लिए काम करने वाले एक संगठन और एक वकील की मदद मांगी.

कर्नाटक पुलिस के डिप्टी कमिश्नर एमएन एनुचेथ ने बीबीसी हिंदी को इस मामले पर बताया, "हमने उस लड़की का बयान दर्ज किया था. वो बालिग थीं, और अपनी मर्जी से कुछ करने, कहीं जाने और किसी के साथ रहने के लिए स्वतंत्र थीं."

'समस्या सेक्स अपराध है सेक्स नहीं'

झूठ और नफ़रत का डिजिटल चक्रव्यूह तोड़ने की कोशिश

इमेज कॉपीरइट Science Photo Library

नौकरी गंवानी पड़ी

उस लड़की ने काम करना शुरू कर दिया और रिश्ते की एक बहन के साथ रहने लगी. लेकिन बात यहीं ख़त्म नहीं हुई.

आठ हफ्ते बाद उसकी कहानी ने अचानक एक नया मोड़ ले लिया और उसको नौकरी गंवानी पड़ी.

एक स्थानीय अख़बार में ख़बर छपी, "शहर के पहले लेस्बियन जोड़े ने एक मंदिर में शादी की."

ये कहा गया कि एक लड़की के पिता की कथित शिकायत के बाद अख़बार ने ख़बर छपी.

अल्टर्नेटिव लॉ फोरम में बतौर रिसर्च कंसल्टेंट काम करने वालीं रूमी हरीश कहती हैं, "हमें नहीं मालूम कि ये शिकायत कहां से मिली कि वो एक लेस्बियन थी. अगर दो लड़कियां साथ रहती हैं तो इसका मतलब ये नहीं है कि वो लेस्बियन जोड़ी हैं."

'निर्भया' के बाद दिल्ली बदली महिलाओं के लिए?

ब्लॉग: यौन उत्पीड़न की शिकायत करना आसान नहीं

रीजनल चैनल पर ख़बर

पीपल्स यूनियन फॉर सिविल लिबर्टीज़ के राम दास कहते हैं, "अख़बार में छपी इस रिपोर्ट ने घरेलू हिंसा के मुद्दे को पूरी तरह से भटका दिया है. इस बात से कोई मतलब नहीं है कि उन दोनों लड़कियों का आपस में क्या रिश्ता था."

रूमी हरीश कहती हैं, "ये मुद्दा तब गरमाया जब एक रीजनल चैनल ने उनकी तस्वीरें बिना ठीक से ब्लर किए हए पब्लिश कीं. जहां तक नौकरी जाने का सवाल है, हम उनकी कंपनियों को लिख रहे हैं कि इस आधार पर उनकी सेवा खत्म नहीं की जा सकती."

टीवी पर रिपोर्ट आने के कुछ ही घंटों के भीतर उनमें से एक लड़की को कंपनी ने नौकरी से निकाल दिया था.

हालांकि इस मसले पर दोनों लड़कियां मीडिया से बात करने के लिए तैयार नहीं हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे