प्रेस रिव्यू- स्कूलों में जैमर लगवाएं ताकि बच्चे नहीं देख पाएं पोर्न

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक केंद्र सरकार ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट को बताया कि चाइल्ड पोर्नोग्राफी के मुद्दे से पूरी तरह निपटने के लिए क़दम उठाए जा रहे हैं.

सरकार ने जस्टिस दीपक मिश्रा की अगुवाई वाली तीन सदस्यीय पीठ को यह भी बताया कि उन्होंने सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) से स्कूलों में जैमर लगाने पर विचार करने को कहा है, ताकि छात्रों की पोर्नोग्राफी साइटों तक पहुंच न हो सके.

सरकार की ओर से अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल पिंकी आनंद ने पीठ से कहा कि हम ऐसे तरीकों के साथ आ रहे हैं जो ऐसे हालात से पूरी तरह निपटेंगे. हालांकि, उन्होंने बताया कि स्कूल बसों में जैमर लगाना मुमकिन नहीं है.

इमेज कॉपीरइट AFP

इकोनॉमिक टाइम्स के मुताबिक कर्नाटक में भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा ने कहा है कि राज्य में सत्ता में लौटने के लिए भाजपा को सांप्रदायिक ध्रुवीकरण करने की ज़रूरत ही नहीं है क्योंकि सत्तारूढ़ कांग्रेस सरकार के ख़िलाफ़ जनता में बेहद ग़ुस्सा है.

उन्होंने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को भी ज़्यादा तरजीह देने से इनकार कर दिया और पूछा- राहुल गांधी कौन हैं? क्या वो नेता भी हैं? यहाँ तक कि कांग्रेस के सहयोगी भी उन्हें अपना नेता नहीं स्वीकार करते.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट ने नीट (नेशनल एलिजिबिलिटी-कम-एंट्रेंस टेस्ट) 2017 एग्जाम रद्द करने से इनकार कर दिया है.

शुक्रवार को कोर्ट ने कहा कि एग्जाम रद्द नहीं होगा क्योंकि ऐसा हुआ तो मेडिकल और डेंटल कोर्स ज्वाइन करने के लिए ये टेस्ट पास करने वाले 6 लाख से ज़्यादा छात्रों पर असर पड़ेगा.

जस्टिस दीपक मिश्रा की अगुआई वाली तीन जजों की बेंच ने कहा कि नीट के नतीजों को डिस्टर्ब करना 'बहुत मुश्किल' होगा क्योंकि 11.35 लाख छात्रों में से करीब 6.11 लाख ने यह एग्जाम पास किया है और काउन्सलिंग का प्रॉसेस जारी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे