प्रेस रिव्यू: ज़ाकिर नाइक का पासपोर्ट रद्द

इमेज कॉपीरइट FACEBOOK ZAKIR NAIK

'दैनिक जागरण' में छपी एक ख़बर के अनुसार राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के अनुरोध पर विवादास्पद इस्लामिक उपदेशक और चरमपंथियों को धन मुहैया कराने के मामलों से जुड़े ज़ाकिर नाइक का पासपोर्ट रद्द कर दिया गया है.

अख़बार के अनुसार एनआईए के अधिकारियों का कहना है कि 13 जुलाई को व्यक्तिगत पेशी के लिए जारी कारण बताओ नोटिस पर जब नाइक की तरफ से कोई जवाब नहीं आया तो उनके यात्रा दस्तावेज़ को रद्द कर दिया गया.

नाइक को दिए गए नोटिस में पूछा गया था कि उसके ख़िलाफ़ लंबित विभिन्न मामलों की जांच को देखते हुए उसका पासपोर्ट क्यों रद्द नहीं किया जाना चाहिए.

ज़ाकिर नाइक: डोंगरी से दुबई तक

'ज़ाकिर नाइक के आईएम, हिज़बुल से संबंध'

इमेज कॉपीरइट PTI

बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने राज्यसभा की सदस्यता से कल ये कहते हुए इस्तीफ़ा दे दिया कि अगर वो अपने समुदाय की बात नहीं रख सकतीं तो उनके राज्यसभा सांसद होने का कोई फायदा नहीं.

'दैनिक जागरण' में छपी ख़बर के अनुसार मायावती का इस्तीफ़ा स्वीकार होने की संभावना कम ही है क्योंकि इस्तीफ़े के साथ ना तो कोई कारण बताया जाता है और ना ही कोई सफाई दी जाती है.

अख़बार का कहना है कि शराब कारोबारी विजय माल्या ने लंदन से अपना इस्तीफ़ा फैक्स किया था, लेकिन उसमें उन्होंने कुछ कारण गिनाए थे. राज्यसभा सचिवालय ने उन्हें दोबारा बिना कारण गिनाए इस्तीफ़ा भेजने के लिए कहा था.

अख़बार ने नवजोत सिंह सिद्धू का भी उदाहरण दिया है और लिखा है कि 2006 में एक दुर्घटना के बाद विवादों में फंसने के बाद उन्होंने लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफ़ा दिया था. इन्हीं कारणों से उन्हें दोबारा इसे भेजने के लिए कहा गया था.

मायावती का इस्तीफ़ा राजनीतिक पैंतरेबाज़ी: भाजपा

नाराज़ मायावती ने राज्यसभा से दिया इस्तीफ़ा

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption [सांकेतिक तस्वीर]

'हिंदुस्तान टाइम्स' में छपी ख़बर के अनुसार जम्‍मू-कश्‍मीर में एक जवान को मोबाइल फोन के इस्‍तेमाल करने से रोकने पर उन्होंने एक मेजर को गोली मार दी.

मामला जम्‍मू-कश्‍मीर में नियंत्रण रेखा के पास उड़ी सेक्टर की एक सैन्‍य चौकी का है.

अख़बार के अनुसार 8वीं राष्‍ट्रीय राइफल्‍स के मेजर शिखर थापा नियंत्रण रेखा के पास पोस्‍ट पर तैनात थे.

उन्होंने 19 मद्रास रेजिमेंट के नायक कथीरेसन को उस संवेदनशील पोस्ट पर फोन का इस्तेमाल करने से रोका था और कमांडिंग अफसर से इसकी शिकायत करने की बात की थी. इससे ख़फ़ा कथीरेसन ने उन पर गोलियां चला दीं.

कितना मुश्किल है जम्मू-कश्मीर में पुलिसकर्मी होना?

कश्मीरी युवा क्यों उठा रहे हैं हथियार?

इमेज कॉपीरइट Getty Images

'इंडियन एक्सप्रेस' में छपी एक ख़बर के अनुसार एक मुज़फ्फरनगर में मुसलमान लड़के और हिंदू लड़की को प्यार करने की सज़ा दी गई है.

नसीम ख़ान और पिंकी कुमारी ने मुज़फ्फरनगर दंगों के दो साल बाद, 2015 में शादी की थी और अपने घरवालों से डर कर विशाखात्तनम चले गए थे.

अख़बार के अनुसार इसी साल जुलाई 17 को बेटे अब्दुल्ला के जन्म के बाद दोनों ईद मनाने अपने गांव लौटे थे जहां नसीम के ससुरालवालों ने उनकी हत्या कर दी.

उन पर उस वक्त हमला किया गया जब वो अपने बेटे के लिए जन्मदिन का केक ले कर घर आ रहे थे.

अख़बार के अनुसार पिंकी का कहना है कि वो ईद मनाने के बाद अपने घर लौटने वाले थे लेकिन घरवालों के साथ अपने बेटे का जन्मदिन मनाने के लिए रुक गए थे.

'अखिलेश से ख़ुश नहीं, फिर भी वोट देंगे'

वो 6 दिन तक अपनी पत्नी के शव के साथ सोया

इमेज कॉपीरइट MANSI THAPLIYAL
Image caption गोरक्षकों के एक दल की फ़ाइल तस्वीर

'जनसत्ता' में छपी एक ख़बर के अनुसार केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य सरकारों से कहा है कि गोरक्षा के नाम पर की जाने वाली हिंसा के मामलों में प्राथमिकी दर्ज करना ज़रूरी है.

मंत्रालय ने इस तरह के मामलों में सख़्ती बरतने के निर्देश दिए गए हैं.

अख़बार के अनुसार केंद्र सरकार ने जानवरों के कारोबारी, बीफ़ खाने वाले, मुसलमान, दलित और डेयरी कारोबारियों को सुरक्षा देने की ज़िम्मेदारी राज्य सरकारों पर डाली है.

क्या है गोरक्षा के लिए लगने वाला गुंडा एक्ट

गाय को हमारे यहां माँ मानते हैं लेकिन....

इमेज कॉपीरइट Getty Images

'दैनिक भास्कर' में छपी एक ख़बर के अनुसार दिल्ली हाईकोर्ट ने सैनेटरी नैपकिन पर 12 फ़ीसदी जीएसटी लगाने के सरकार के फ़ैसले पर कड़ा रुख़ अपनाया है.

इसके ख़िलाफ़ दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने वित्त मंत्रालय और जीएसटी काउंसिल को नोटिस भेजा और जवाब मांगा.

याचिका में कहा गया है कि यह भारतीय महिलाओं के साथ भेदभाव है, असवैंधानिक है और सैनेटरी नैपकिन पर 12 फ़ीसद जीएसटी लगाना अवैध है.

ग़रीब लड़कियों के लिए मुफ़्त सैनिटरी पैड

#PehlaPeriod : 'बैग से स्कर्ट छिपाते-छिपाते घर पहुंची'

इमेज कॉपीरइट Getty Images

अख़बार में छपी एक अन्य ख़बर के अनुसार बैंक ऑफ इंग्लैंड ने मंगलवार को 10 पाउंड का नया नोट जारी किया है. जानी-मानी लेखिका जेन ऑस्टन का फोटो वाले इस नोट में एनिमल फैट का इस्तेमाल हुआ है जिसे ले कर काफी विवाद हुआ है.

अख़बार का कहना है कि कुछ समय पहले भी 5 पाउंड के नोट में एनीमल फैट पर विवाद हो चुका है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)