शेयर बाज़ार पर चीन विवाद बेअसर, निफ्टी 10,000

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज इमेज कॉपीरइट Getty Images

भारतीय शेयर बाज़ारों में मंगलवार को इतिहास रचा गया. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी ने पहली बार 10,000 की रिकॉर्ड ऊँचाई को छुआ.

इस साल 2017 में निफ्टी 22 फ़ीसदी की तेज़ी हासिल कर चुका है.

भारतीय मीडिया में सिक्किम सीमा पर चीन के साथ विवाद की ख़बरों के बीच शेयर बाज़ारों में तेज़ी जारी है.

निफ्टी ने 1996 में 1000 अंकों के आधार मूल्य के साथ अपना सफर शुरू किया था.

21 साल बाद निफ्टी 10,000 की मंजिल पर पहुँच चुका है. यानी 21 साल में निवेशकों की रकम 10 गुना हुई है.

विदेशी निवेशकों ने सिर्फ़ जुलाई महीने में ही भारतीय बाज़ारों में 500 करोड़ डॉलर का निवेश किया है.

शेयर बाज़ार मोदी की जीत पर जश्न को तैयार

प. बंगाल में जीएसटी को लेकर भ्रम की स्थिति

इमेज कॉपीरइट Getty Images

इतिहास में पहली बार

बाज़ार के जानकारों के मुताबिक जीएसटी लागू होने, अच्छा मॉनसून रहने और ब्याज दरों में कटौती की उम्मीद से शेयर बाज़ारों में तेज़ी का माहौल है.

निफ्टी को 9,000 से 10,000 तक पहुंचने में कुल 91 कारोबारी सत्र लगे.

एक साल के निचले स्तर से निफ्टी में 2,100 से ज्यादा अंकों की तेज़ी देखने को मिली है.

मंगलवार को निफ्टी 10,011 की ऐतिहासिक ऊंचाई पर पहुँचा, इससे पहले इतिहास में निफ्टी कभी भी 10,000 के पार नहीं गया था.

निफ्टी के साथ सेंसेक्स भी नया रिकॉर्ड बनाने में कामयाब रहा, बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 32,374 के ऊपरी स्तर तक पहुँचा.

शराब, पेट्रोलियम, रियल एस्टेट और बिजली GST से बाहर क्यों?

जीएसटी के पांच सवाल, कौन देगा इनके जवाब?

प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा
जीएसटी वही, सोच नई!

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे