#70yearsofpartition: जब रॉयल इंडियन एयरफ़ोर्स का हुआ बंटवारा

भारत, पाकिस्तान, बंटवारा इमेज कॉपीरइट British Library

एक तरफ़ धर्म के आधार पर दो देश वजूद में आ रहे थे तो दूसरी तरफ़ बंटवारे के तौर तरीक़े भी तय हो रहे थे.

1947 के अगस्त महीने के अख़बारों की लगभग हर ख़बर इसी तरफ इशारा करती है.

उस बरस तीन अगस्त को रविवार था और लाहौर से छपने वाले 'ईस्टर्न एक्सप्रेस' की सबसे बड़ी ख़बर सिंध का सूखा था.

नई दिल्ली से छपने वाले 'द हिंदुस्तान टाइम्स वीकली' ने रॉयल इंडियन एयरफ़ोर्स के धार्मिक आधार पर बंटवारे की ख़बर को बॉक्स आइटम में छापा था.

आइए देखते हैं 3 अगस्त 1947 को नई दिल्ली से छपने वाले 'हिंदुस्तान टाइम्स' और लाहौर से छपने वाले 'ईस्टर्न एक्सप्रेस' ने किन ख़बरों को जगह दी थी.

जब महात्मा गांधी पहली बार कश्मीर पहुंचे

वो गांव जो 1971 तक पाक में था, अब भारत में है

इमेज कॉपीरइट British Library

हिंदुस्तान टाइम्स

  • रॉयल इंडियन एयरफोर्स का बंटवारा. 10 स्क्वैड्रन में से 8 भारत के हिस्से में तो दो पाकिस्तान के हिस्से में गए. बंटवारा वायु सेना में हिंदू और मुस्लिम कर्मचारियों की संख्या के आधार पर किया गया.
  • केवल कांग्रेस ही देश को एक सूत्र में पिरो कर रख सकती है. दो अगस्त को कांग्रेस महासचिव शंकरराव देव ने एक बयान जारी कर कहा.
  • डॉक्टर श्यामाप्रसाद मुखर्जी ने अंतरिम सरकार में रक्षा मंत्री बनने का प्रस्ताव स्वीकार किया. ये निर्णय उन्होंने विनायक दामोदर सावरकर से सलाह लेने के बाद किया.
  • भारत सरकार में आरके शनमुगम शेट्टी वित्त मंत्री होंगे.

भारत-पाक बंटवारा: 70 साल बाद भी वो दर्द ज़िंदा है..

बंटवारे के बाद ना पाकिस्तान खुश ना भारत

इमेज कॉपीरइट British Library
  • दो अगस्त को दोपहर में नेहरू ने लॉर्ड माउंटबेटन से मुलाकात की. जिन्ना और लियाकत अली चौधरी ने भी माउंटबेटन से मुलाकात की.
  • संघीय कैबिनेट में तीन हरिजन मंत्रियों को शामिल करने की मांग.
  • लंदन में इस बात पर चर्चा हुई कि ब्रिटेन भारत को उसका हक़ चुकाए या नहीं. ऑक्सफ़र्ड यूनिवर्सिटी के प्रोफ़ेसर आरएफ़ हैरोड ने कहा कि ब्रिटेन युद्ध से पूरी तरह से टूट चुका है और ऐसे वक़्त में जब वह अपनी अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए संघर्ष कर रहा है, भारत को उसका पैसा चुकाने के बारे में सोच भी नहीं सकता.

जब जिन्ना ने तिलक का पुरज़ोर बचाव किया था

वंदे मातरम विवाद का सच जानना ज़रूरी है

इमेज कॉपीरइट British Library
Image caption ईस्टर्न टाइम्स, 3 अगस्त, 1947

द ईस्टर्न टाइम्स

  • बंटवारे के बाद कराची में पाकिस्तान सचिवालय के लिए नई दिल्ली से अधिकारियों की रवानगी जारी.
  • हैदराबाद में निज़ाम की हुकूमत ने ब्रिटिश सरकार से सहमति के बाद एक अधिसूचना जारी की जिसके अनुसार उसके क्षेत्र में पड़ने वाली रेलवे की ज़मीन निज़ाम के कंट्रोल में आ गई. रेलवे की ये ज़मीन पहले ब्रिटिश नियंत्रण में थी.
  • हैदराबाद भारत संघ में शामिल नहीं होगा. निज़ाम ने रेडियो प्रसारण में कहा कि वो आज़ाद रहते हुए भारत और पाकिस्तान दोनों से संबंध रखना चाहता है.
इमेज कॉपीरइट British Library
  • सिंध में सूखा. रेगीस्तानी इलाक़े में बारिश न होने के कारण दो लाख की आबादी भुखमरी का शिकार.
  • अमृतसर में सांप्रदायिक तनाव चरम पर. प्रभावित इलाके में 80 घंटे के लिए कर्फ़्यू लागू.
  • अख़बार के संपादक की तरफ से देश के सभी मुसलमानों को पाकिस्तान फंड के लिए जिन्ना की अपील.
इमेज कॉपीरइट British Library
  • जम्मू और कश्मीर के महाराजा के राजनीतिक विभाग के असाधारण गजट में अधिसूचना जारी की गई कि गिलगित का विलय कर दिया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)