वेंकैया नायडू उपराष्ट्रपति चुने गए, 10 ख़ास बातें

वेंकैया नायडू इमेज कॉपीरइट Getty Images

एम वेंकैया नायडू को भारत का अगला उपराष्ट्रपति चुन लिया गया है. वेंकैया नायडू सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाले एनडीए गंठबंधन के उम्मीदवार थे. वेंकैया नायडू को विपक्ष के उम्मीदवार के रूप में पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल और महात्मा गांधी के पोते गोपालकृष्ण गांधी चुनौती दे रहे थे. वेंकैया नायडू 11 अगस्त को उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे.

उपराष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी 10 ख़ास बातें

  • निर्वाचन अधिकारियों का कहना है कि 98.21 फ़ीसदी वोटिंग हुई. असिस्टेंट रिटर्निंग ऑफ़िसर मुकुल पांडे ने कहा कि कुल 785 वोटों में 771 सांसदों ने मतदान किया. वेंकैया नायडू को 771 में से 516 वोट मिले जबकि गोपालकृष्ण गांधी को 244 वोट मिले. 11 वोट अवैध घोषित हुए.
  • राष्ट्रपति चुनाव में बीजू जनता दल और जनता दल यूनाइटेड ने एनडीएम उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का समर्थन किया था, लेकिन उपराष्ट्रपति चुनाव में इन दोनों दलों ने विपक्ष के उम्मीदवार गोपालकृष्ण गांधी का समर्थन किया.
  • वर्तमान उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी लगातार दो कार्यकाल से इस पद पर थे. उनका कार्यकाल 10 अगस्त को ख़त्म हो रहा है.
  • भारत में उपराष्ट्रपति का चुनाव एक निर्वाचक मंडल करता है. उपराष्ट्रपति भारतीय संसद के ऊपरी सदन राज्यसभा का पदेन सभापति भी होता है.
  • उपराष्ट्रपति के चुनाव में लोकसभा और राज्यसभा के सांसद वोट करते हैं. दोनों सदनों में सदस्यों की संख्या 790 है, लेकिन लोकसभा में दो सीटें और राज्यसभा में एक सीट खाली है.
  • बीजेपी सांसद छेदी पासवान को अदालती फ़ैसले के कारण वोट नहीं देने दिया गया.
  • 545 सदस्यों वाली लोकसभा में बीजेपी के 281 सांसद हैं. बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए के पाले में 338 सांसद हैं. दूसरी तरफ़ 245 सदस्यों वाली राज्यसभा में बीजेपी के 58 सांसद हैं और इस संख्या के साथ ही बीजेपी राज्यसभा में सबसे बड़ी पार्टी बन गई है.
  • राज्यसभा में कांग्रेस के 57 सांसद हैं. 50 फ़ीसदी से ज़्यादा जिस उम्मीदवार को वोट मिलता है, उसे विजेता घोषित किया जाता है.
  • उपराष्ट्रपति चुनाव में कोई भी पार्टी अपने सांसदों को लेकर विप जारी नहीं कर सकती है. मतदान एक गोपनीय बैलेट के ज़रिए होता है.
  • संसद सदस्य दिन में 10 से पांच बजे शाम तक बैलेट पर अपनी पसंद बताने के लिए एक ख़ास कलम का इस्तेमाल करते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे