हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष का बेटा छेड़खानी में गिरफ़्तार

इमेज कॉपीरइट facebook/Subhash Barala
Image caption सुभाष बराला हिरयाणा की भाजपा इकाई के अध्यक्ष हैं.

चंडीगढ़ पुलिस ने हरियाणा भाजपा के अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे समेत दो युवकों को छेड़खानी के मामले में गिरफ़्तार किया है.

चंडीगढ़ के डिप्टी एसपी सतीश कुमार ने बीबीसी संवाददाता दिलनवाज़ पाशा को बताया, "एक युवती ने अपनी कार का पीछा किए जाने और छेड़खानी करने की शिकायत 100 नंबर पर कॉल करके दी थी."

उन्होंने बताया, "पुलिस ने गाड़ी का नंबर फ्लैश कर दिया और चंद ही मिनट बाद विकास बराला और आशीष कुमार को पकड़ लिया गया."

सतीश कुमार के मुताबिक मेडिकल जांच में दोनों युवकों के नशे में होने की पुष्टि हुई है.

हालांकि बाद में दोनों युवकों को ज़मानत पर छोड़ दिया गया.

ये घटना शुक्रवार देर रात की है. पुलिस ने पीड़ित युवती को शनिवार को अदालत में पेश किया जहां सीआरपीसी की धारा 164 के तहत लड़की के बयान दर्ज किए गए.

10 साल की रेप पीड़िता को नहीं मिली गर्भपात की अनुमति

'छह महीने तक हर रोज़ वो मेरा रेप करता रहा'

पुलिस के मुताबिक लड़की के बयान के बाद पहले से दर्ज मुक़दमे में आईपीसी की धारा 341 भी जोड़ दी गई है.

पुलिस ने अभियुक्त विकास बराला के भाजपा नेता का बेटा होने की पुष्टि की है.

विकास बराला चंडीगढ़ में रहकर क़ानून की पढ़ाई कर रहे हैं.

पुलिस के मुताबिक अभियुक्त और पीड़ित के बीच पहले से कोई जान पहचान नहीं है.

पुलिस ने शुक्रवार रात विकास और आशीष को आईपीसी की धारा 354 डी के तहत गिरफ़्तार किया था.

बीबीसी ने इस घटना पर भाजपा नेता सुभास बराला की प्रतिक्रिया लेने की कोशिश की, लेकिन उनका फ़ोन बंद है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे