प्रेस रिव्यू: जामिया के अल्पसंख्यक दर्जे का विरोध करेगी मोदी सरकार

Image caption मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर

इंडियन एक्सप्रेस ने अपने सूत्रों के हवाले से ख़बर दी है कि दिल्ली की जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के अल्पसंख्यक दर्जे पर सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार अपना समर्थन वापस लेने जा रही है.

अख़बार का दावा है कि मानव संसाधन मंत्रालय इस संबंध में नया एफिडेविट दाख़िल करने वाला है, जिसमें लिखा जाएगा कि जामिया को अल्पसंख्यक दर्जा दिया जाना एक ग़लती थी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

द इकोनॉमिक टाइम्स ने अपने सूत्रों के हवाले से ख़बर दी है कि एसयूवी और हाई एंड लग्ज़री कारों पर सेस 15 फ़ीसदी से बढ़कर 25 फ़ीसदी हो सकता है.

अख़बार ने लिखा है कि जीएसटी के बाद हुई कथित 'अनियमितता' में सुधार करने के लिए केंद्र और राज्य दोनों सरकारें सेस बढ़ाने पर विचार कर रही हैं.

फिलहाल 28 फ़ीसदी जीएसटी मिलाकर इन कारों पर कुल 43 फ़ीसदी की लेवी लगती है जो इस प्रस्ताव के लागू होने की स्थिति में 53 फ़ीसदी हो जाएगी.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

टाइम्स ऑफ इंडिया ने ख़बर दी है कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार अपराधों से निपटने के लिए यूपीकोका क़ानून (उत्तर प्रदेश कंट्रोल ऑफ ऑर्गेनाइज्ड क्राइम) लाने पर विचार कर रही है.

यह क़ानून महाराष्ट्र के मकोका क़ानून की तरह होगा. अख़बार नए वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के हवाले से यह ख़बर दी है. 2007 में मायावती ने भी अपने कार्यकाल में ऐसा क़ानून लाने की कोशिश की थी, लेकिन तत्कालीन यूपीए सरकार ने इसकी इजाज़त यह देखते हुए नहीं दी थी कि गुजरात और महाराष्ट्र में इस क़ानून का इस्तेमाल अल्पसंख्यकों के ख़िलाफ़ किया गया था.

इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption प्रतीकात्मक तस्वीर

नवभारत टाइम्स ने ख़बर दी है कि चोटी कटने की घटनाओं के बीच ऐसा एक फर्जी मामला भी सामने आया है.

ग्रेटर नोएडा के दयानपुर में पब्लिसिटी पाने के लिए एक महिला की चोटी उसके पोते ने काट दी. इसके बाद शोर मचा दिया गया कि रहस्यमयी शक्ति ने चोटी काट दी है.

अख़बार के मुताबिक, कुछ ही देर में ज़ेवर पुलिस ने इसका ख़ुलासा कर डाला. चोटी काटने वाले बच्चे की उम्र 11 साल है. उसकी उम्र को देखते हुए पुलिस ने उसे चेतावनी देकर छोड़ दिया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे