'लाल किले से प्रधानमंत्री बताएं नोटबंदी के फायदे'

नरेंद्र मोदी इमेज कॉपीरइट Getty Images

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से दिए जाने वाले भाषण के लिए लोगों से सुझाव मांगे थे.

पीएम मोदी ने ये सुझाव बीती 11 अगस्त को मांगे थे और बस तीन दिन में ही 15 हजार लोगों ने अपने तमाम सुझाव पीएम मोदी की ऐप पर भेज दिए हैं.

प्रधानमंत्री मोदी से पूछे गए अहम सवाल

  • देश की जनसंख्या में तेजी से हो रही बढ़त रोकने के लिए क्या कदम उठा रहे हैं?
  • स्किल डेवलपमेंट अभियान से देश को क्या फ़ायदा हुआ?
  • जीएसटी से देश को क्या लाभ हुआ?
  • देश के सरकारी कार्यालय भ्रष्टाचार मुक्त हुए या नहीं?
  • आप इतनी विदेश यात्राएं क्यों करते हैं, देशवासियों को बताएं?

ऑक्सीजन के लिए भुगतान क्यों नहीं हुआ?

सौरभ अरोड़ा ने प्रधानमंत्री से देश की जनसंख्या को नियंत्रित करने के मुद्दे पर जवाब मांगा है.

इसके साथ ही वे पूछते हैं, "जिस देश में 500 करोड़ रुपए योग दिवस मनाने में खर्च कर दिए जाते हैं. 15-15 करोड़ रुपए एमएलए खरीदने में उड़ाए जाते हैं, वहां ऑक्सीजन के लिए 68 लाख रुपए का भुगतान क्यों नहीं होता?"

इमेज कॉपीरइट NARENDRA MODI APP

नोटबंदी से क्या फायदा हुआ?

जैनेंद्र कावेडिया प्रधानमंत्री से अपने भाषण में नोटबंदी का देश के विकास में योगदान का जिक्र करने का आग्रह किया है.

उन्होंने यह भी पूछा है कि उनकी घोषणा के मुताबिक देश के सरकारी कार्यालय भ्रष्टाचार मुक्त हुए या नहीं?

इमेज कॉपीरइट NARENDRA MODI APP

इतनी विदेश यात्रा क्यों करते हैं?

शुभम कुलकर्णी ने लिखा है, "कई लोगों को यह समझ नहीं आ रहा है कि आप इतने देशों की यात्रा क्यों कर रहे हैं? मेरी आग्रह है कि आप अपने विदेश दौरों के फायदे जनता को बताएं."

शुभम ने कश्मीर समस्या पर भी प्रधानमंत्री को अपना रुख स्पष्ठ करने का अनुरोध किया है.

नज़रियाः गोरखपुर वाले नमो ऐप पर भाषण के आइडिया भेजें?

इमेज कॉपीरइट NARENDRA MODI APP

आम आदमी के अच्छे दिन कब आएंगे?

केरसी जल सेथना ने नरेंद्र मोदी से अपने भाषण में 'अच्छे दिन' का जिक्र नहीं करने का अनुरोध किया है. उन्होंने लिखा है, "ऐसा लग रहा है आम आदमी के अच्छे दिन नहीं आएंगे. 'अच्छे दिन' सिर्फ राजनेताओं और कॉर्पोरेट्स के लिए हैं."

ब्लॉग: बंटे एक साथ, पाकिस्तान की आज़ादी पहले कैसे

इमेज कॉपीरइट NARENDRA MODI APP

जीएसटी पर भ्रम क्यों?

वहीं, विजय ने जीएसटी लागू होने के बाद पनपे भ्रम से लोगों को बाहर कैसे लाया जाए, इस पर बोलने का आग्रह किया है. उन्होंने लिखा है, "व्यापारी जीएसटी का डर दिखाकर जनता को लूट रहे हैं."

उन्होंने लिखा है कि मेडिकल की पढ़ाई महंगी हो गई है. महंगी पढ़ाई कर एक डॉक्टर सस्ता इलाज कैसे कर सकता है?

इमेज कॉपीरइट NARENDRA MODI APP

इनके अलावा समित खट्टर ने बिल्डरों पर लगाम लगाने, सुरेश साहू ने किसान आयोग का गठन करने, संतोष देशपांडे ने निजी स्कूलों पर लगाम लगाने, शिव कुमार ने देश की स्वास्थ्य व्यवस्था में बदलाव लाने जैसे मुद्दों पर भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सुझाव भेजे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)