'बीजेपी आरएसएस की सम्पत्ति नहीं है दूरदर्शन'

इमेज कॉपीरइट tripura.gov.in
Image caption त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक सरकार

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआईएम) का आरोप है कि दूरदर्शन ने त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक सरकार का भाषण प्रसारित करने से मना कर दिया.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, भारत की सार्वजनिक प्रसारण संस्था प्रसार भारती की ओर से इस बारे में कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. दूरदर्शन और आकाशवाणी, प्रसार भारती के तहत कार्य करते हैं.

मोहन भागवत ने केरल में फ़हराया तिरंगा, हुआ विवाद

इमेज कॉपीरइट twitter
Image caption सीताराम येचरी का ट्वीट

इस मामले में सीपीआईएम के महासचिव सीताराम येचुरी ने एक ट्वीट करके कहा है कि दूरदर्शन भारतीय जनता पार्टी या राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की निजी सम्पत्ति नहीं है.

सीपीआईएम ने भी अपने ट्वीट में दूरदर्शन के इस कथित रवैये का ज़िक्र करते हुए सवाल उठाया था कि क्या यही संघवाद है जिसके बारे में प्रधानमंत्री मोदी बात करते हैं? पार्टी ने इसे 'शर्मनाक' भी बताया है.

इमेज कॉपीरइट Twitter
Image caption सीताराम येचुरी का ट्वीट

वहीं सीताराम येचुरी ने सवाल उठाया है कि क्या ये एक तरह का 'अघोषित आपातकाल' है. उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी पर एक निर्वाचित मुख्यमंत्री की आवाज़ दबाने का भी आरोप लगाया है.

मोदी जी बोले अच्छा, पर कई सवाल छोड़ गए

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे