प्रेस रिव्यू: बीजेपी नेता की गौशाला में गायों के मरने पर बवाल

गाय इमेज कॉपीरइट OTHER

इंडियन एक्सप्रेस ने लिखा है कि छत्तीसगढ़ के दुर्ग में सरकार की मदद से चलने वाली एक गौशाला में कम से कम 27 गायों की मौत हो गई है.

अधिकारियों ने बताया है कि मामला दर्ज किया गया है और छत्तीसगढ़ राज्य गौ सेवा आयोग ने पुलिस में शिकायत की है कि गौशाला में सुविधाओं की कमी के कारण गायों की मौत हो गई है.

गौशाला चलाने वाले बीजेपी नेता हरीश वर्मा ने बताया कि 15 अगस्त को गायें दीवार टूटने से मर गई हैं.

ड्रग एडिशनल कलेक्टर संजय अग्रवाल ने बताया कि पिछले तीन दिन में राजपुर गौशाला में 27 मौतें हुई हैं.

राजपुर में आम लोग गायों की मौत के लिए हरीश वर्मा को ज़िम्मेदार ठहरा रहे हैं वहीं हरीश वर्मा अपनी ही पार्टी की सरकार को वार्षिक अनुदान नहीं देने के लिए कोस रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट OTHERS

टाइम्स ऑफ़ इंडिया ने लिखा है कि शुक्रवार को तमिलनाडु के सत्तारूढ़ दल के दो धड़े मिल नहीं पाए.

मरीना बीच पर पूर्व मुख्यमंत्री और पार्टी प्रमुख जे जयललिता के स्मारक पर पार्टी दोनों धड़ों मुख्यमंत्री इके पलानीसामी और बागी नेता ओ पनीरसेलवम के विलय का माहौल बना था.

लेकिन शाम आठ बजे एंटी क्लाइमेक्स आ गया जब ओ पनीरसेलवम के धड़े ने अपना रुख कड़ा कर लिया.

उनके धड़े की मांग है कि इके पलानीसामी मुख्यमंत्री पद और पार्टी महासचिव पद पनीरसेलवम को देने का आश्वासन दें.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

जनसत्ता ने लिखा है कि भारत-चीन के बीच डोकलाम सीमा विवाद और करीब एक दशक से चली आ रही तनातनी के बीच वियतनाम ने कथित तौर पर भारतीय ब्रह्मोस सुपरसोनिक एंटी शिप क्रूज मिसाइल का अधिग्रहण किया है.

भारत की तरफ़ से वियतनाम को ब्रह्मोस दिए जाने से चीन को और गुस्सा आ सकता है क्योंकि ब्रह्मोस दुनिया के सबसे उन्नत मिसाइलों में से एक मानी जाती है.

और, माना जा रहा है कि वियतनाम इस मिसाइल को चीन के खिलाफ समुद्र में तैनात कर सकता है.

चीन और वियतनाम के बीच भी दक्षिणी चीन सागर विवाद पर दशकों से तनातनी जारी है.

हालांकि, भारत ने मिसाइल बिक्री पर अभी तक कोई टिप्पणी नहीं की है.

और, अब तक इस बारे में भी कोई जानकारी उपलब्ध नहीं कराई गई है कि वियतनाम को बेची गई मिसाइल का मूल्य कितना है.

इसके अलावा भारत वियतनाम को आकाश मिसाइल देने पर भी विचार कर रहा है, वहीं, सुखोई 30 एमकेआई लड़ाकू विमानों भी प्रशिक्षण देगा.

इमेज कॉपीरइट Getty Images

दैनिक भास्कर में छपी खबर के मुताबिक, भारत ने कहा है कि डोकलाम विवाद पर चीन से बातचीत जारी रखी जाएगी.

विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि इस मुद्दे का ऐसा हल निकालने की कोशिश की जा रही है, जो दोनों मुल्कों को स्वीकार हो.

15 अगस्त को लद्दाख में दोनों देशों के सैनिकों की बीच हुई झड़प पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा- वहां, कुछ घटना हुई थी. ऐसे विवादों से किसी को फायदा नहीं होने वाला.

सिक्किम के ट्राइजंक्शन एरिया में करीब दो महीने से भारत और चीन के सैनिक आमने-सामने हैं. चीन यहां एक सड़क बनाना चाहता है, लेकिन भारत इसका विरोध कर रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)