'मोदी तो राहुल और केजरीवाल को भी फ़ॉलो करते हैं'

मोदी इमेज कॉपीरइट Getty Images

बीजेपी ने गुरुवार शाम को अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से पीएम मोदी से जुड़े ट्विटर विवाद पर स्पष्टीकरण दिया है.

इस स्पष्टीकरण में बीजेपी ने पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा अपशब्द कहने वालों को फ़ॉलो करने से जुड़े विवाद को ग़लत बताया है.

बीजेपी ने कहा है, "पीएम मोदी का किसी व्यक्ति को ट्विटर पर फ़ॉलो करना किसी तरह का चरित्र प्रमाणपत्र नहीं है. क्योंकि प्रधानमंत्री कई आम लोगों को ट्विटर पर फ़ॉलो करते हैं और उनसे निरंतर बात करते हैं."

उधर, बीजेपी की इस सफ़ाई के बाद कांग्रेस ने प्रधानमंत्री की चुप्पी पर सवाल उठाए हैं.

पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जो हर बात पर ट्वीट करते हैं, उसकी निंदा उन्होंने आज तक क्यों नहीं की. आज तक वो इस पर चुप्पी क्यों साधे हैं. जबकि वे सब लोग जो भाजपा के समर्थक हैं, जिन्हें प्रधानमंत्री ट्विटर पर फॉलो करते हैं, वो गौरी लंकेश की हत्या का जश्न मना रहे हैं."

'वे मुझे वेश्या भी कहेंगे तो फ़र्क़ नहीं पड़ेगा'

गौरी लंकेश की मौत की 'त्रासद गवाही' देता वो बयान

इमेज कॉपीरइट Twitter

क्यों ख़ड़ा हुआ है विवाद?

पीएम मोदी पत्रकार गौरी लंकेश की मौत के बाद कथित तौर पर उन्हें अपशब्द कहने वाले ट्विटर यूज़र को फ़ॉलो करते हैं.

इस मामले के सामने आने के बाद विवाद ख़ड़ा हो गया था.

'गौरी लंकेश के बेबाक लेखन से डर गए कट्टरपंथी'

'हमें गौरी जैसी हत्याओं की आदत पड़ती जा रही है!'

इमेज कॉपीरइट Twitter

समाजसेवी योगेंद्र यादव समेत कई अन्य हस्तियों ने पीएम मोदी की इस मुद्दे पर कड़ी आलोचनी की है.

बीजेपी ने इसी विवाद कहा है, "प्रधानमंत्री मोदी राहुल गांधी को भी फ़ॉलो करते हैं जो लूट और धोखाधड़ी के आरोप में अभियुक्त हैं... पीएम मोदी अरविंद केजरीवाल को भी फ़ॉलो करते हुए हैं जिन्होंने बुरे से बुरे शब्दों में उन्हें अपशब्द कहे थे."

कार्टून: आवाज़ इनकी और उनकी

'जो भी बीजेपी के ख़िलाफ़ बोलेगा, मार दिया जाएगा'

इमेज कॉपीरइट Anant Prakash

"और तो और, पीएम मोदी पार्थेश पटेल को भी फ़ॉलो करते हैं जिन्होंने कांग्रेस ज्वॉइन करने के बाद पीएम मोदी को गालियां दी हैं."

पीएम मोदी हैं एक दुर्लभ नेता

इस बयान में कहा गया है कि पीएम मोदी एक दुर्लभ नेता हैं जो फ़्रीडम ऑफ़ स्पीच में विश्वास करते हैं और उन्होंने कभी भी किसी को भी ब्लॉक या अनफ़ॉलो नहीं किया है.

गौरी लंकेश से आख़िर किसे ख़तरा था?

'देश की हर गली में एक गोडसे घूम रहा है'

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)