राजस्थान वीडियोः "जानवर भी इंसानों से बेहतर हैं"

शंभूलाल इमेज कॉपीरइट Video Grab
Image caption पुलिस ने अभियुक्त शंभूलाल को गिरफ़्तार कर लिया है.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राजस्थान में हुई पश्चिम बंगाल के मज़दूर की हत्या की कड़ी आलोचना की है.

ममता बनर्जी ने ट्वीट कर कहा, "हम राजस्थान में बंगाल के मज़दूर की जघन्य हत्या की कड़ी आलोचना करते हैं. लोग इतने अमानवीय कैसे हो सकते हैं? दुखद."

वहीं, राजस्थान सरकार ने घटना का वीडियो वायरल होने के बाद विशेष जांच दल से जांच कराने के आदेश दिए हैं.

राजस्थान के गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने कहा, "जिस तरह की घटना सामने आई है ये हृदय विदारक है. जिस ढंग से मारा गया है उसे देखकर कोई भी आदमी चौंक जाएगा."

राजस्थान पुलिस ने बीबीसी से अभियुक्त शंभूलाल रैगर की गिरफ़्तारी की पुष्टि की है.

राजस्थान के राजसमंद ज़िले में बुधवार को एक व्यक्ति की हत्या कर वीडियो वायरल कर दिया गया था. अभियुक्त शंभूलाल ने हत्या के वीडियो के अलावा अपने दो और वीडियो साझा किए थे जिनमें वो लव जिहाद और राष्ट्रवाद की बातें कर रहे थे.

मानवाधिकार आयोग नाराज़

इस घटना की राजस्थान मानवाधिकार आयोग ने भी सख़्त आलोचना की है.

आयोग के अध्यक्ष जस्टिस प्रकाश टाटिया ने कहा, "इंसान को रचियता की श्रेष्ठ कृति माना जाता है. मगर इस घटना पर पशु भी कह रहे होंगे कि इंसान से तो वे भी बेहतर हैं."

उन्होंने बीबीसी से कहा, "इस घटना से मैं बहुत विचलित हुआ हूँ, हम आज शर्मिंदा हैं."

मुसलमान मज़दूर की हत्या का वीडियो वायरल

लव जिहाद पर बच्चों को सीख देना चाहती है राजे सरकार

इमेज कॉपीरइट Video Grab
Image caption शंभूलाल ने वीडियो में हत्या करने की बात कबूल भी की है.

आयोग ने राजसमंद पुलिस को पुख्ता जांच करने को कहा है और घटना पर रिपोर्ट तलब भी की है.

टाटिया ने कहा, 'हमने प्रकरण दर्ज कर तथ्यात्मक रिपोर्ट तलब की है. रिपोर्ट मिलते ही आगे की कार्रवाई की जाएगी.

टाटिया ने कहा कि ये मानवधिकार की हत्या नहीं, बल्कि यह मानवता की मौत है. उन्होंने कहा, "जानवर भी सोचते होंगे कि वे पशु होकर इंसान से ज्यादा अच्छे हैं. ऐसा घृणित कृत्य मानव ही कर सकता है, पशु नहीं."

'जाँच दल भेजेंगे'

उधर, पीपुल्स यूनियन सिविल लिबर्टीज और अरुणा राय के नेतृत्व वाले मजदूर किसान शक्ति संगठन ने घटना की जाँच के लिए अपना दल राजसमंद भेजने का बात कही है.

साथ ही इन संगठनों ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के इस्तीफ़े की मांग भी की है.

मानवाधिकार संगठन पीयूसीएल की अध्यक्ष कविता श्रीवास्तव ने बीबीसी से कहा, "अब बहुत हो गया है. पिछले नौ माह में यह चौथी ऐसी हत्या है. इससे पहले पहलू ख़ान ,जफ़र ख़ान ,उमैर ख़ान और अब मोहम्मद अफ़राज़ुल को बेदर्दी से मार डाला गया है. इसके लिए वो दिन चुना गया जब बाबरी मस्जिद गिराने की बरसी थी."

अभियुक्त ने अपने वीडियो में बाबरी मस्जिद गिराए जाने का ज़िक्र भी किया है. मानवाधिकार संगठनों ने अल्पसंख्यकों की सुरक्षा को लेकर चिंता व्यक्त की है.

कविता श्रीवास्तव ने कहा, "हमारी टीम मौके पर जा रही है. इस घटना में मृतक बंगाल के मालदा का था और यहाँ मजदूरी कर अपने परिवार को पाल रहा था."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे