प्रेस रिव्यू: जेटली ने मानी अर्थव्यवस्था में सुस्ती की बात

इमेज कॉपीरइट SAJJAD HUSSAIN/AFP/Getty Images

'अमर उजाला' के पहले पन्ने पर छपी ख़बर के अनुसार संसद में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने माना कि वित्त वर्ष 2016-17 में विकास दर धीमी पड़ी है.

अख़बार लिखता है कि उन्होंने लोकसभा को बताया कि जीडीपी 2015-16 में 8 फ़ीसदी की विकास दर के मुक़ाबले 2016-17 में 7.1 फ़ीसदी तक पहुंच गई है. उन्होंने कहा कि आर्थिक रफ्तार धीमी होने से औद्योगिक क्षेत्र और सर्विस सेक्टर में भी तेज़ी नहीं आई है.

भारत की विकास दर गिरी, दिखा नोटबंदी का असर

नोटबंदी का मामूली असर, आर्थिक विकास दर 7%

इमेज कॉपीरइट Hardeep Singh Puri @Twitter

अख़बार में छपी एक अन्य ख़बर के अनुसार केंद्रीय शहरी विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप सिंह पुरी उत्तर प्रदेश से राज्यसभा जाएंगे. वो पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के इस्तीफ़े से खाली हुई सीट पर हो रहे उपचुनाव में भाजपा के प्रत्याशी होंगे.

अख़बार का कहना है कि चुनाव आयोग ने इस सीट पर उपचुनाव के लिए शुक्रवार को अधिसूचना जारी कर दी थी. अख़बार लिखता है कि उनका निर्विरोध निर्वाचन तय है.

इमेज कॉपीरइट Asha Kumari @Twitter

'दैनिक जागरण' में छपी एक ख़बर के अनुसार हिमाचल प्रदेश से कांग्रेस विधायक आशा कुमारी ने शिमला में पार्टी कार्यालय में प्रवेश करने से रोकने पर एक महिला कॉन्स्टेबल को थप्पड़ मार दिया.

जवाब में महिला कॉन्स्टेबल ने भी उन्हें थप्पड़ लगा दिया. इससे ग़ुस्साई विधायक ने कॉन्स्टेबल को एक और थप्पड़ मार दिया.

मामला के ख़बर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को हुई तो उन्होंने कहा जो हुआ अच्छा नहीं हुआ. उन्होंने डलहौजी से विधायक आशा कुमारी को माफ़ी मांगने के लिए कहा.

इमेज कॉपीरइट Asha Kumari @Twitter

इसके बाद आशा कुमारी ने कहा कि वो माफ़ी तो नहीं मांगती हैं, लेकिन ख़ुद से माफ़ी मांगती हैं, क्योंकि बच्चों पर हाथ नहीं उठाना चाहिए था.

इधर महिला कॉन्स्टेबल ने आशा कुमारी के ख़िलाफ़ मामला दर्ज़ करा दिया है.

हिमाचल का हर दूसरा विधायक है राजपूत, ऐसा कैसे?

'धक्का पाकर' मुख्यमंत्री बने जयराम ठाकुर

इमेज कॉपीरइट EPA/SASCHA STEINBACH

केंद्र ने बिटक्वॉइन जैसी वर्चुअल करेंसी में पैसा लगाने वालों को आगाह किया है. ये ख़बर छापी है नई दुनिया अख़बार ने.

सरकार का कहना है कि ये वर्चुअल करेंसी ना तो कोई सिक्का है और ना ही मुद्रा, ये पोन्ज़ी स्कीम की तरह है.

वित्त मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा है कि ये करेंसी वैध नही है, देश में किसी भी नियामक ने किसी भी एजेंसी को वर्चुल करेंसी के लिए लाइसेंस नहीं दिया है.

मंत्रालय का कहना है कि जो लोग इसका लेनदेन कर रहे हैं उनहें इसके जोख़िम के बारे में सजग रहना चाहिए.

बिटक्वाइन ने इन बंधुओं को अरबपति बना दिया

बिटक्वाइन एक ही दिन में एक तिहाई क्यों गिरा?

इमेज कॉपीरइट PRAKASH SINGH/AFP/Getty Images

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की हार के लिए भितरघात, बागियों और लोगों से संपर्क टूट जाने को ज़िम्मेदार ठहराया है और कहा है कि भितरघातियों को बख्शा नहीं जाएगा.

'जनसत्ता' में छपी एक ख़बर के अनुसार राहुल गांधी समीक्षा बैठक के लिए हिमाचल प्रदेश के शिमला पहुंचे थे जहां उन्होंने ज़मीनी हक़ीक़त की जानकारी लेने के बाद कहा कि पार्टी के बड़े नेता अहंकार में रहे और उनका संपर्क लोगों से टूट गया.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेताओं ने ही कांग्रेसी उम्मीदवारों का साथ नहीं दिया और पार्टी के नेता और कार्यकर्ता आपस में ही लड़ते रहे.

'मुझे गुजरात ने बहुत सिखाया है'

राजनीतिक फ़ायदे के लिए झूठ बोलती है बीजेपी: राहुल

इमेज कॉपीरइट MONEY SHARMA/AFP/Getty Images

राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने केंद्र सरकार को फ़र्ज़ी विज्ञापनों पर पर नकेल कसने के निर्दश दिया.

'हिन्दुस्तान' अख़बार में छपी एक ख़बर के अनुसार राज्यसभा में नायडू ने बताया कि वो भी वजन घटाने के चक्कर में एक फ़र्ज़ी विज्ञापन के झांसे में फंस गए थे.

उन्होंने बताया कि उपराष्ट्रपति बनने के बाद उन्होंने वजन घटाने की सोची थी. उन्होंने कहा, "मैंने एक ऐसी कंपनी का विज्ञापन देखा जिसमें एक दवा के जरिए बहुत कम वक़्त में वजन घटाने का दावा किया गया था और मैंने एक हज़ार रुपए देकर दवा मंगा ली थी. लेकिन पैसे देने के बाद भी कंपनी ने मुझे दवा नहीं दी बल्कि मुझसे एक हज़ार रुपए और मांगे."

इमेज कॉपीरइट REUTERS/Shailesh Andrade

अख़बार में छपी एक अन्य ख़बर के अनुसार बैंकों के ग़ैर निष्पादित संपत्ति यानी एनपीए संबंधित दिवाला (संशोधन) विधेयक लोकसभा में पास हो गया है.

एनपीए को पूर्ववर्ती यूपीए सरकार से विरासत में मिली समस्या बता कर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि बैंकों से एनपीए को छिपा कर रखा गया और इस तरह देश की आंखों में धूल झोंकने की कोशिश की गई.

अरुण जेटली ने कहा कि नया विधेयक नवंबर में लागू किए गए अध्यादेश की जगह लेगा जिसमें दिवाला और शोधन अक्षमता संहिता में संशोधन करने की मांग की गई थी.

उन्होंने कहा कि इस विधेयक में कमियों को दूर करने करने पर ज़ोर दिया गया है ताकि जानबूझकर क़र्ज़ नहीं चुकाने वाले बकाएदार ख़ुद की परिसंपत्तियों की बोली नहीं लगा सकें.

डेली पायोनियर में छपी एक ख़बर के अनुसार अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की एक बैठक में फ़र्ज़ी बाबाओं की दूसरी सूची जारी की गई है जिसमें दिल्ली के वीरेंद्र दीक्षित कालनेमी, बस्ती के सच्चिदानंद सरस्वती और इलाहाबाद के त्रिकाल भवंता के नाम शामिल हैं.

परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी की अधयक्षता में हुई बैठक में सभी 13 अखाड़ों के प्रमुख शामिल हुए थे. बैठक के बाद नरेंद्र गिरी ने अपील की कि लोग ऐसे बाब्ओं से सतर्क रहें जो किसी परंपरा और संप्रदाय से नहीं हैं.

इससे पहले 10 सितंबर को अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने फ़र्ज़ी बाबाओं की पहली सूची जारी की थी.

कार्टून: बाबा और 'सर्टिफ़ाई बाबा'

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

मिलते-जुलते मुद्दे