कोलकाता पुलिस हटा रही है पुराने वाहन

कोलकाता
Image caption पुलिस प्रमुख के अनुसार 15 साल से पुराने वाहनों को सड़कों पर चलने नहीं दिया जाएगा

पश्चिम बंगाल की राजधानी और भारत के तीसरे सबसे बड़े शहर कोलकाता में अदालत के निर्देशानुसार 15 साल से ज़्यादा पुराने वाहनों को सड़कों से हटाया जा रहा है.

हज़ारों पुलिसकर्मियों को कोलकाता की सड़कों पर तैनात किया गया है और पुलिस जहाँ भी 15 साल से पुराने वाहनों को सड़क पर देख रही है, वह उन्हें 'रिकवरी वैन्स' के ज़रिए हटा रही है.

कोलकाता में निजी बसों और टैक्सियों की संख्या लगभग 80 हज़ार है और ऑटो-रिकशॉ लगभग 85 हज़ार हैं.

शहर में कई ऑटो-रिकशॉ, टैक्सी और बसों के मालिक इसका विरोध कर रहे हैं और टॉलिगंज इलाक़े में ऑटो मालिको की पुलिस के साथ झड़प भी हुई है.

प्रदूषण के राहत के लिए

कोलकाता हाईकोर्ट ने एक साल पहले प्रदूषण कम करने की दृष्टि से 15 साल पुराने वाहनों को हटाने का फ़ैसला सुनाया था.

यह फ़ैसला एक अध्ययन के बाद आया था जिसमें कहा गया था कि एक करोड़ 80 लाख की जनसंख्या वाले कोलकाता शहर में लगभग 70 प्रतिशत लोग श्वास संबंधी बीमारियों से ग्रसित हैं.

इन बीमारियों में फेफड़े का कैंसर, अस्थमा और सांस लेने में दिक़्कत शामिल हैं.

निजी बसों और टैक्सियों के मालिकों का कहना है कि एक तो उन्हें पुराने वाहनों को सड़क से हटाने के लिए कुछ और समय दिया जाना चाहिए लेकिन पर्यावरणविद कहते हैं कि मामला अदालत में कई वर्षों तक चलता रहा और कोर्ट के निर्देशानुसार 31 जुलाई तक वाहन मालिकों को पर्याप्त समय दिया जा चुका है.

वाहन मालिक पिछले हफ़्ते सुप्रीम कोर्ट में गए थे लेकिन वहाँ से भी उन्हें कोई राहत नहीं मिली थी.

हड़ताल भी की थी

इससे एक हफ़्ता पहले टैक्सी और बस मालिकों ने शहर में एक दिन की हड़ताल की थी लेकिन बाद में उन्होंने सुप्रीम कोर्ट जाने का फ़ैसला किया था और हड़ताल वापस ले ली थी.

कोलकाता के पुलिस प्रमुख गौतम चक्रबर्ती का कहना है, "हम अदालत के फ़ैसले को पूरी तरह से लागू करेंगे. कोलकाता की सड़कों पर 15 साल से पुराने किसी भी वाहन को चलने की तब तक इजाज़त नहीं दी जाएगी जब तक वे ग्रीन फ़्यूल यानी प्रदूषण घटाने वाले ईंधन पर चल रहे हों."

कोलकाता के मेयर का कहना है कि बस मालिकों की यूनियन ने कहा है कि वे पुरानी बसें नहीं चलाएँगे. लेकिन उन्हें ऑटो और टैक्सी मालिकों की यूनियन की ओर से ऐसा कोई आश्वासन नहीं मिला है.