दोषियों के ख़िलाफ़ होगी कार्रवाई

एसएम कृष्णा
Image caption भारतीय विदेश मंत्री को आला अधिकारियों ने भारतीय छात्रों की सुरक्षा का आश्वासन दिया है.

ऑस्ट्रेलिया ने भारत को आश्वासन दिया है कि ऑस्ट्रेलिया में भारतीय छात्रों पर हाल में हुए हमलों के लिए दोषी लोगों के ख़िलाफ़ कार्रवाई की जाएगी.

भारतीय विदेश मंत्री एसएम कृष्णा ने अपनी ऑस्ट्रेलिया यात्रा के दौरान उच्च अधिकारियों के साथ ये मसला उठाया है और कहा है कि इस पर भारत में गंभीर चिंता बनी हुई है.

न्यू साउथ वेल्स के प्रमुख नैथन रीस के साथ मुलाक़ात के दौरान विदेश मंत्री एसएम कृष्णा को आश्वासन दिया गया कि भारतीय छात्रों के ख़िलाफ़ हिंसा करने वालों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई होगी.

रीस ने कृष्णा को बताया कि इस संबंध में एक टास्क फोर्स का गठन किया गया है जिसकी बैठक शुक्रवार को होगी. उन्होंने यह भी कहा कि भारतीय समुदाय से जो जानकारी मिली है वो टास्क फोर्स को भी बताई जाएगी.

पाँच दिन की यात्रा पर ऑस्ट्रेलिया पहुंचे विदेश मंत्री ने भारतीय समुदाय के प्रतिनिधियों से मुलाक़ात की ताकि वो समस्या के बारे में उनसे सीधी जानकारी ले सकें.

उनका कहना था, ''विदेशों में पढ़ाई कर रहे भारतीय छात्रों की सुरक्षा और उनकी देखभाल भारत सरकार की शीर्ष वरीयताओं में हैं.'' भारतीय समुदाय के प्रतिनिधियों का कहना था कि छात्रों के ख़िलाफ़ हिंसा के हर मामले में ऑस्ट्रेलियाई सरकार की कार्रवाई ज़रुरी है.

प्रतिनिधियों ने कृष्णा से कहा कि ऑस्ट्रेलिया के अधिकारियों से यह भी कहें कि भारतीय समुदाय के साथ सहयोग किया जाए.

कृष्णा की ऑस्ट्रेलिया यात्रा से पहले भारत में ऑस्ट्रेलिया के नवनियुक्त उच्चायुक्त पीटर वर्गीज़ ने कहा था कि ऑस्ट्रेलिया में भारतीय छात्रों के ख़िलाफ़ हमला एक 'ज्वलंत मुद्दा' है और यह एक जटिल मसला है जिसे सिर्फ़ नस्ली समस्या के तौर पर नहीं देखा जाना चाहिए.

वर्गीज़ भारतीय मूल के ऑस्ट्रेलियाई नागरिक हैं और वो इसी महीने भारत में अपना कार्यभार संभालेंगे. उनका कहना था, '' निश्चित रुप से भारतीय छात्रों पर हमला ज्वलंत मुद्दा है. हम इसे ख़ारिज़ नहीं कर सकते और हम ऐसा चाहते भी नहीं हैं. इसे सुलझाने की ज़रुरत है. मैं जो कर सकता हूं वो करुंगा.''

उन्होंने ऑस्ट्रेलिया को नस्लभेदी देश मानने से इंकार किया और कहा कि पिछले बीसेक वर्षों में ऑस्ट्रेलिया में बहुत बदलाव हुए हैं और वहां कई संस्कृतियों और देशों के लोग आराम से रहते हैं.