बाड़मेर में 14 किलो आरडीएक्स बरामद

आरडीएक्स विस्फोटक

राजस्थान में भारत-पाकिस्तान के सीमावर्ती ज़िले बाड़मेर में पिछले पांच दिनों के दौरान बरामद किए गए विस्फोटकों ने भारतीय सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ा दी है.

सुरक्षा एजेंसियों ने पिछले पांच दिन में बालू के ढेर के भीतर छुपाकर रखा 14 किलोग्राम विस्फोटक पदार्थ, आरडीएक्स बरामद किया है. इसके साथ कुछ हथियार भी बरामद किए गए हैं.

सुरक्षाबलों ने इस सिलसिले में तीन लोगों को गिरफ्तार भी किया है.

बाड़मेर में इस मामले में जाँच कर रहे एक पुलिस अधिकरी ने बीबीसी को बताया कि रविवार को सरहद के निकट एक गांव से आठ किलोग्राम आरडीएक्स बरामद किया गया है.

इससे पहले मंगलवार को भी सुरक्षा एजेंसियों ने सीमा क्षेत्र से छह किलोग्राम आरडीएक्स बरामद किया था.

इसे मिलाकर बरामद आरडीएक्स की कुल मात्रा 14 किलो हो गई है. आरडीएक्स एक उच्च क्षमता वाला विस्फोटक पदार्थ है और इतनी मात्रा भी बड़े नुकसान को अंजाम दे सकती है.

बड़ी बरामदगी

पुलिस अधिकारी प्रदीप ने बीबीसी को बताया की पुलिस ने चार पिस्टल और बड़ी मात्रा में कारतूस भी बरामद किए हैं.

इसके साथ साथ फुगे वायर और विस्फोट में काम आने वाली और सामग्री भी पकड़ी गई है.

पकड़े गए लोगों में से एक पहले भी ऐसी संदिग्ध गतिविधियों में वांछित रहा है.

पुलिस अब ये पता लगा रही है कि ये विस्फोटक क्या सीमा पार कर लाया गया था और इसका मकसद क्या था.

हालांकि राजस्थान से लगी अंतरराष्ट्रीय सीमा को आमतौर पर शांत समझा जाता है. यूँ तो राजस्थान से लगी पाकिस्तान की कोई एक हज़ार किलोमीटर से ज़्यादा लंबी सीमा पर पूरी तरह तारबंदी है मगर मरुबालू के जटिल टीले इस बहुत दुरूह बना देते है.

इससे पहले गत मंगलवार को सुरक्षा एजेंसियों ने इसी रेगिस्तानी सीमा क्षेत्र से जब छह किलो आरडीएक्स बरामद किया था तो वहां सनसनी फ़ैल गई थी.

पुलिस ने इसके साथ 50 से 90 फुट लंबे सेफ्टी वायर भी बरामद किए थे. सुरक्षा बलों को लगता है कि ये विस्फोटक किसी चरमपंथी संगठन को भेजे जाने थे. पुलिस अभी पकड़े गए लोगो से पूछताछ कर रही है.

संबंधित समाचार