एयर इंडिया की कुछ उड़ानें रद्द

एयर इंडिया
Image caption एयर इंडिया के पायलट वेतन भत्ते में कटौती के ख़िलाफ़ 'हड़ताल' पर चले गए हैं

भारत में सरकारी कंपनी एयर इंडिया के लगभग 400 कार्यकारी पायलट वेतन भत्ता घटाने के विरोध में 'हड़ताल' पर चले गए हैं.

पायलट संगठनों के प्रतिनिधि कैप्टन वीके भल्ला ने दावा किया है कि उनके साथ और भी पायलट हड़ताल में शामिल होने का मन बना रहे हैं.

वीके भल्ला ने बीबीसी को बताया कि पायलटों को तीन महीने से काम के आधार पर मिलने वाले भत्ते नहीं दिए गए है जबकि सरकार की ओर से कंपनी के चैयरमैन को पैसा मिल चुका है.

वीके भल्ला के अनुसार पायलटों को उनके वेतन का 85 फ़ीसदी हिस्सा नहीं मिल रहा है जिससे पायलट इस बात को लेकर चिंतित हैं कि उनका घर कैसे चलेगा? उनका कहना है कि पायलट की मन:स्थिति ऐसी नहीं है कि वे उड़ान भर सकें.

शुक्रवार को पायलटों ने हड़ताल पर जाने की धमकी दी थी.

ग़ौरतलब है कि पिछले दिनों जेट एयरवेज़ के पायलटों ने भी हड़ताल की थी.

दावा ग़लत

उधर एयर इंडिया के प्रवक्ता जीतेंद्र भार्गव ने पायलटों के दावों को ग़लत बताया है और कहा है कि केवल कुछ पायलट बीमारी का बहाना बनाकर काम पर नहीं आए हैं.

उनकी दलील है कि एयर इंडिया फ़िलहाल आर्थिक संकट के दौर से गुज़र रही है इसलिए कुछ कड़े क़दम उठाए गए हैं.

भार्गव ने स्वीकार किया कि पायलटों के साथ तमाम कर्मचारियों के वेतन में देरी हो रही है क्योंकि आर्थिक मंदी के कारण कम लोग हवाई जहाज़ से यात्रा कर रहे है जिससे राजस्व में कमी आई है.

उनका कहना है कि इन पायलटों को हड़ताल पर जाने से पहले प्रबंधन के सामने अपनी शिकायतें रखनी चाहिए थी, लेकिन मामले को सुलझाने के लिए एयर इंडिया के चैयरमैन रविवार को पायलटों से बातचीत के लिए मिल रहे हैं.

भार्गव का कहना है कि पायलट हड़ताल को बढ़ा चढ़ा कर पेश कर रहे हैं.

उनका कहना है कि एयर इंडिया की यूरोप और अमरीका जाने वाली सभी विमान सेवाएं समय पर चली हैं.

भार्गव कहते हैं, "कोई भी उड़ान रद्द नहीं की गई है. 58 अंतरराष्ट्रीय उड़ानें उड़ी हैं लेकिन घरेलू उड़ानें प्रभावित हुई हैं क्योंकि कुछ पायलट ने बीमारी के कारण छुट्टी ली हैं. मुंबई और श्रीनगर के लिए कुछ उड़ाने रद्द की गई है. तीन सौ में से केवल 10 ही उड़ानें रद्द हुई हैं. अगर ये पायलट हड़ताल पर चले भी जाते हैं तो हम यात्रियों को असुविधा से बचाने के लिए योजना बना रहे हैं."

बहरहाल रविवार को एयर इंडिया चैयरमैन ने मुंबई, चैन्नई और कोलकत्ता के पायलटों को बातचीत के लिए मुंबई बुलाया है जबकि दिल्ली के पायलटों को बाद में बुलाया जाएगा.

संबंधित समाचार