असम में गोलीबारी, 11 की मौत

सुरक्षाकर्मी
Image caption चरमपंथियों को पकड़ने के लिए अभियान शुरू किया गया है

असम में सोनितपुर ज़िले के बालीसांग और दीमागुड़ी बस्ती में संदिग्ध नेशनल डेमोक्रेटिक फ़्रंट ऑफ़ बोडोलैंड (एनडीएफ़बी) चरमपंथियों की गोलीबारी में ग्यारह लोगों की मौत हो गई है.

ये बस्तियाँ बिश्वनाथ चाराली पुलिस स्टेशन के अंतर्गत आती हैं. इस पुलिस स्टेशन के प्रभारी बीसी नाथ ने घटनास्थल से जानकारी दी है कि ये घटना शाम साढ़े छह बजे की है.

उनके मुताबिक़ बालीसांग से चार लोगों के शव मिले हैं जबकि दामागुड़ी से दो शव बरामद हुए हैं. एक घायल व्यक्ति की अस्पताल ले जाते वक़्त रास्ते में ही मौत हो गई.

स्थानीय पत्रकार पीपी सिंह ने बीबीसी को बताया है कि गोलीबारी में कम से कम बीस लोगों के घायल होने का समाचार है. घायलों को तेज़पुर के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

ज़िले के पुलिस उपाधीक्षक सुरेंद्र कुमार घटनास्थल पर पहुँच गए हैं और एनडीएफ़बी के संदिग्ध चरमपंथियों को पकड़ने के लिए अभियान भी शुरू कर दिया गया है.

पुलिस का कहना है कि चरमपंथी एनडीएफ़बी के ही थे, क्योंकि ये इलाक़ा उनके प्रभाव वाला माना जाता है.

संबंधित समाचार