एक्ज़िट पोल में कांग्रेस आगे

कांग्रेस समर्थक
Image caption महाराष्ट्र में विपक्ष के कमज़ोर होने का फ़ायदा कांग्रेस को मिलता दिख रहा है

मंगलवार को हुए मतदान के बाद विभिन्न टेलीविज़न चैनलों के एक्ज़िट पोल के नतीजे संकेत दे रहे हैं कि महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन को बढ़त मिलने जा रही है.

अगर कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन को वहाँ जीत मिलती है तो राज्य में गठबंधन को मिलने वाली यह तीसरी जीत होगी.

आईबीएन लोकमत-सीएनन आईबीएन चैनल के एक्ज़िट पोल के अनुसार 288 सदस्यों वाली विधानसभा में कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन को 135 से 145 सीटों पर जीत मिलने के आसार हैं.

इसके अनुसार कांग्रेस को 75 से 85 और एनसीपी को 55 से 65 सीटों के बीच जीत मिलने की संभावना है.

चैनल का अनुमान है कि वहाँ शिवसेना को 55 से 65 और भाजपा को 44 से 55 सीटें मिलने की संभावना है.

स्टार न्यूज़ के अनुसार कांग्रेस को 89 और एनसीपी को 48 सीटों पर जीत मिलने की संभावना है. इस दृष्टि से महाराष्ट्र में त्रिशंकु विधानसभा बनने जा रही है.

वहाँ बहुमत के लिए किसी भी दल को कम से कम 144 सीटों की ज़रुरत होगी.

स्टार न्यूज़ ने शिवसेना को 62 और भाजपा को 51 सीटें मिलने की संभावना जताई है.

सीएनआईबीएन ने राज ठाकरे की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) को 25 से 30 सीटें मिल सकती हैं जबकि स्टार न्यूज़ ने इस दल को सिर्फ़ 12 सीटों पर जीत का अनुमान लगाया है.

स्टार न्यूज़ ने हरियाणा की 90 सीटों वाली विधानसभा में कांग्रेस को 57 सीटों पर जीत मिलने की संभावना बताई है.

अगर हरियाणा में कांग्रेस को जीत मिलती है तो वहाँ कांग्रेस को दूसरी पारी का मौक़ा मिलेगा.

टीवी चैनल में इंडियन नेशनल लोकदल को 18, हरियाणा जनहित कांग्रेस को नौ और बहुजन समाज पार्टी को तीन सीटें मिलने की संभावना दिखाई है. उसके एक्ज़िट पोल के अनुसार भाजपा को एक ही सीट पर जीत मिलती दिख रही है.

मतगणना 22 को

मंगलवार को छिटपुट हिंसक घटनाओं के बीच महाराष्ट्र, हरियाणा और अरुणाचल प्रदेश में विधानसभा चुनावों के लिए लगभग 66 फ़ीसदी मतदान हुआ था.

चुनाव आयोग के अनुसार अरुणाचल प्रदेश में सबसे ज्यादा लगभग 72 फ़ीसदी मतादाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया जबकि महाराष्ट्र में 60 और हरियाणा में 66 फीसदी मतदान हुआ था.

हरियाणा में अरुणाचल प्रदेश के बाद सबसे ज़्यादा 66 फ़ीसदी मतदान हुआ.

हिंसा की छिटपुट घटनाओं को छोड़ कर मतदान शांतिपूर्ण रहा.

तीनों राज्यों में मतगणना एक साथ ही 22 अक्तूबर को होगी.

संबंधित समाचार