गुड़गाँव में कर्मचारी हड़ताल पर

गुड़गांव कार उद्योग का मुख्य केंद्र है

दिल्ली से सटे गुड़गाँव में कार कंपनियों में काम करने वाले हज़ारों कर्मचारी एक दिन की हड़ताल पर हैं.

प्रदर्शनकारियों ने लगातार नारेबाज़ी की और मार्च किया. ये लोग एक साथी कर्मचारी की मौत के विरोध में हड़ताल पर हैं.

रविवार को रिको ऑटो लिमिटिट फ़ैक्ट्री में कर्मचारियों के दो गुटों के बीच झड़प के दौरान एक कर्मचारी की मौत हो गई थी.

एक प्रदर्शकारी प्रेम कुमार ने कहा, “हम विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. रविवार को पुलिस और कुछ अराजक तत्वों ने हम पर हमला किया जिसमें हमारे साथी अजीत यादव की मौत हो गई. हमारी माँग है कि दोषियों को गिरफ़्तार किया जाए-चाहे वे प्रबंधन के लोग हों या पुलिस के. हम चाहते हैं कि मारे गए कर्मचारी के परिवार को मुआवज़ा भी मिले.”

रिको फ़ैक्ट्री में कर्मचारी पिछले एक महीने से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. ऑटो सेक्टर के हिसाब से गुड़गाँव भारत का बड़ा केंद्र है.हड़ताल के कारण कई कार कंपनियाँ प्रभावित हुई हैं.

किसी अप्रिय स्थिति से बचने के लिए रिको कंपनी के आस-पास बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं.

ऑल इंडिया ट्रेड यूनियन कांग्रेस ने आगाह किया है कि अगर जल्द क़दम नहीं उठाए गए तो पूरी गुड़गाँव-मनेसर औद्योगिक बेल्ट में हड़ताल की जाएगी.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.