अचानक झारखंड पहुँचे चिदंबरम

चिदंबरम
Image caption चिदंबरम ने नक्सलियों के ख़िलाफ़ बनी योजना के सूत्रधार माने जाते हैं.

भारत के गृह मंत्री पी चिदंबरम अचानक बुधवार रात नक्सल प्रभावित राज्य झारखंड की राजधानी राँची पहुँचे हैं.

गुरुवार सुबह आठ बजे ही वह राज्यपाल के शंकर नारायण के साथ बैठक करेंगे.

चिदंबरम सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ़) के विशेष विमान से रात 11 बजे राँची पहुँचे. उनके आगमन की कोई सूचना सार्वजनिक नहीं की गई थी.

माना जा रहा है कि वह राज्य में नक्सलियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई शुरू करने और राज्य में चुनाव के लायक स्थिति बनाने जैसे मुद्दों पर बातचीत करेंगे.

झारखंड में राज्य सरकार ने एस्सार और मित्तल स्टील जैसी बड़ी कंपनियों के साथ करार कर चुकी है लेकिन ये कंपनियाँ स्थानीय विरोध के कारण काम शुरू नहीं कर सकी है.

ये इलाक़े पूर्वी और पश्चिमी सिंहभूम ज़िले में हैं जहां के अधिकतर हिस्सों में माओवादी विद्रोही सक्रिय हैं और वे भू अधिग्रहण का विरोध करते हैं.

सरकारी अधिकारियों के मुताबिक केंद्रीय गृह मंत्री इन इलाक़ों को खाली कराने की कोशिशों पर चर्चा करेंगे.

केंद्र सरकार देश भर में नक्सलियों के ख़िलाफ़ बड़े योजना का खाका तैयार कर चुकी है और इस लिहाज से झारखंड में भी कार्रवाई शुरू करने पर विचार हो सकता है.

संबंधित समाचार