तार स्पष्ट तौर पर पाक से जुड़े हैं: चिदंबरम

चिदंबरम
Image caption चिदंबरम ने कहा कि उन्हें इस प्रकरण के बारे में एफ़बीआई ने जानकारी दी है

भारत के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा है कि पाकिस्तान की ओर से डेविड कोलमैन हैडली के बारे में भारत को कोई जानकारी नहीं दी गई है.

अमरीकी जाँच एजेंसी एफ़बीआई ने शिकागो में गिरफ़्तार किए गए डेविड कोलमैन हेडली और तहव्वुर हुसैन राणा पर भारत के नेशनल डिफ़ेंस कॉलेज पर हमला करने की साज़िश रचने का आरोप लगाया है.

उधर बीबीसी के हैदराबाद संवाददाता उमर फ़ारूक़ के अनुसार भारत के गृह मंत्री पी चिदंबरम ने कहा है कि भारत के ख़िलाफ़ कथित लश्कर-हैडली साज़िश के तार स्पष्ट तौर पर पाकिस्तान से जुड़े हुए हैं.

भारत-यूरोपीय यूनियन सम्मेलन के दौरान दिल्ली में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि पाकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान में जो कुछ हो रहा है उसका भारत पर गंभीर असर होता है.

'हैडली पाकिस्तान गए'

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि पाकिस्तान की ओर से कथित लश्कर-हैडली मामले में कोई जानकारी नहीं आई है.

गृह मंत्री पी चिदंबरम ने हैदराबाद में बताया, "(इस मामले के) स्पष्ट तौर पर पाकिस्तान के साथ तार जुड़े हुए हैं. डेविड हैडली कई बार पाकिस्तान गए और मुझे लगता है कि एफ़बीआई की सलाह पर दो या कुछ और भी लोगों को पाकिस्तान में गिरफ़्तार किया गया है."

उनका कहना था कि उन्हें इस बारे में अमरीकी ख़ुफ़िया एजेंसी एफ़बीआई ने दी है.

उनका ये भी कहना था कि भारत की सुरक्षा एजेंसियाँ लगातार सतर्कता बरत रही हैं ताकि चरमपंथी हमला में कामयाब न हों और वे इस बारे में सार्वजनिक तौर पर कुछ नहीं कहना चाहते.

संबंधित समाचार