बारूदी सुरंग धमाके में छह घायल

नक्सली
Image caption झारखंड में नक्सलियों ने बंद का आह्वान किया

झारखंड के पूर्वी सिंहभूम ज़िले के बहरागोड़ा इलाक़े में बारूदी सुरंग के विस्फोट में झारखंड सशस्त्र पुलिस बल के छह जवान घायल हो गए हैं.

घायलों में घुड़ाबांधा के थाना प्रभारी इंदुभूषण भी शामिल है. झारखंड पुलिस के प्रवक्ता वीएस देशमुख का कहना है कि धमाका माओवादियों ने किया है.

ये धमाका ऐसे समय हुआ है जब गुरुवार मध्यरात्रि से माओवादियों ने झारखंड बंद का आह्वान किया है.

माओवादियों का आरोप है कि उनके संगठन के नेता अशोक महतो लापता हैं और उन्हें शक है कि पुलिस उन्हें पकड़कर ले गई है.

माओवादियों ने धमकी दी है कि अगर 24 घंटे के अंदर अशोक महतो को अदालत में पेश नहीं किया गया तो 29 और 30 नवंबर को 48 घंटे का बंद आयोजित किया जाएगा.

चेतावनी

माओवादियों का कहना है कि अगर इसके बाद भी सरकार नहीं चेती, तो 10 से 16 दिसंबर तक एक सप्ताह का बंद रखा जाएगा.

झारखंड में बंद का आह्वान ठीक विधानसभा चुनाव के समय हो रहा है. झारखंड के चौबीसों ज़िले नक्सलवाद से प्रभावित हैं और इन इलाक़ों में बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है.

माओवादियों के बंद के आह्वान से राज्य में चुनावी प्रक्रिया प्रभावित हो सकती है. बंद के संबंध में माओवादियों की ओर से तीन बयान जारी किए गए हैं.

पहला बयान माओवादियों के सेंट्रल मिलिटरी कमीशन की ओर से सोनू ने दिया है, जबकि झारखंड-बिहार स्पेशल एरिया कमेटी की ओर से गोपाल जी ने अपनी बात रखी है.

साथ ही झारखंड क्षेत्रीय समिति के सचिव भैरव ने भी बंद के लिए बयान दिया है और चेतावनी दी है कि बंद अनिश्चितकालीन भी हो सकता है.

संबंधित समाचार