कांग्रेस आलाकमान का कड़ा रुख़

के रोसैया
Image caption कई नेताओं ने मुख्यमंत्री के ख़िलाफ़ भी मोर्चा खोल दिया था

तेलंगाना को लेकर आंध्र प्रदेश कांग्रेस में चल रहे घमासान के बीच पार्टी हाई कमान ने कड़ा रुख़ अपना लिया है.

शुक्रवार को पार्टी हाई कमान ने राज्य के सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री के वेंकटरेड्डी को कारण बताओ नोटिस जारी किया था.

शनिवार को राज्य से पार्टी के दो सांसदों एल राजगोपाल और मधु गौड़ याशकी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है.

एल राजगोपाल जहाँ तेलंगाना विरोधी मुहिम का नेतृत्व कर रहे हैं वही मधु गौड़ तेलंगाना के समर्थन में झंडा उठाए हुए हैं.

जवाब

राजगोपाल और मधु गौड़ याशकी को 15 दिनों के अंदर कारण बताओ नोटिस का जवाब देने को कहा गया है.

इन दोनों पर आरोप है कि वे जान-बूझकर पार्टी के हित के ख़िलाफ़ काम कर रहे हैं.

इस बीच राज्य के सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री के वेंकटरेड्डी ने कहा है कि उन्हें कारण बताओ नोटिस मिल गया है और वे जल्द ही इसका जवाब देंगे.

उन पर आरोप है कि उन्होंने मुख्यमंत्री की आलोचना करके पार्टी अनुशासन तोड़ा है.

एक दिन पहले उन्होंने स्पष्ट किया था कि उन्होंने मुख्यमंत्री के बारे में कुछ ग़लत नहीं कहा है, वे तो लोगों की भावनाओं को प्रकट कर रहे थे.

संबंधित समाचार