चिरंजीवी ने रोल बदला

Image caption तेलगू फ़िल्मों के हीरो चिरंजीवी प्रजाराज्यम पार्टी के अध्यक्ष भी हैं

प्रजाराज्यम पार्टी के अध्यक्ष चिरंजीवी गृहमंत्री पी चिदंबरम से मंगलवार को एक राजनीतिक भूमिका मे मिले थे तो बुधवार को उन्होंने अपने असली रुप यानि तेलगू फिल्मों के हीरो के तौर पर मुलाक़ात की.

इस मुलक़ात मे उन्होंने गृहमंत्री को हैदराबद फिल्म उद्योग की चिंताओं से अवगत कराया.

उनका कहना था की तेलंगाना मुद्दे पर राज्य मे क़ानून व्यवस्था की स्थिति काफ़ी ख़राब बनी हुई है. उनके अनुसार राज्य मे जो हालात बने हुए हैं उनकी वजह से कई फ़िल्मों की शूटिंग रुकी हुई है और फिल्म उद्योग को काफ़ी नुकसान हो रहा है.

गृहमंत्री से मुलाक़ात के बाद पत्रकारों से बात करते हुए चिरंजीवी का कहना था “हमने गृहमंत्री को राज्य की क़ानून व्यवस्था के बारे मे अवगत कराया है और उनसे उसमे सुधार के लिए ठोस उपाय करने को कहा है. अगर एसा नही होता है तो हैदारबाद फ़िल्म उद्योग से जुड़े लोगों को मजबूरी मे चेन्नई की तरफ रुख करना पड़ेगा.”

इस मुद्दे पर उन्होने गृहमंत्री पी चिदंबरम के अलावा मुख्यमंत्री रोसैया से भी मुलाक़ात की.

चिरंजीवी का कहना है की गृहमंत्री पी चिदंबरम और मुख्यमंत्री रोसैया दोनों ने ही उन्हे आश्वासन दिया है कि उनकी इस मांग पर कार्रवाई की जाएगी और राज्य मे क़ानून व्यवस्था को सुधारने के सभी उपाय किये जाएगें.

चिरंजीवी के अलावा तेलंगाना मु्द्दे पर कांग्रेस नेता केएस राव के नेतृत्व मे आंध्रप्रदेश के तीन मंत्री और कई विधायक भी गृहमंत्री पी चिदबंरम से मिले.

इन नेताओं को संयुक्त आंध्रप्रदेश का समर्थक माना जाता है. इन नेताओं का कहना था कि तेलंगाना पर कोई भी फ़ैसला करने से पहले समाज के सभी वर्गों को साथ लेना होगा.

संबंधित समाचार