घाटी में पाँचवें दिन प्रदर्शन, बंद

कश्मीर घाटी में प्रदर्शन
Image caption दो हफ़्तों में लगातार दूसरे युवक की कथित तौर पर सुरक्षाबलों की गोली से हुई मौत से घाटी में गुस्सा है

भारत प्रशासित कश्मीर में एक हफ़्ते में दूसरी बार एक आम नागरिक की कथित रूप से अर्धसैनिक बलों की गोली से हत्या का मामला सामने आने के बाद शनिवार को लगातार पाँचवें दिन दुकानें बंद रहीं और अनेक जगह यातायात ठप्प रहा.

श्रीनगर के बाहरी हिस्से में ज़ाहिद फ़ारुख़ नाम के एक युवा की हत्या का मामला शुक्रवार को सामने आया था और शनिवार को उन्हें दफ़न किया गया.

समाचार एजेंसियों के अनुसार इस मौक़े पर हज़ारों लोग श्रीनगर में एकत्र हुए और उन्होंने 'ख़ून का बदला ख़ून' और 'हमें आज़ादी चाहिए' के नारे लगाए.

बीबीसी संवाददाता अल्ताफ़ हुसैन के अनुसार श्रीनगर के पुराने शहर में शनिवार को लगातार तीसरे दिन भी कर्फ़्यू जारी रहा.

कई जगहों पर पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए आँसू गैस का इस्तेमाल किया.

तेरह वर्षीय की मौत

इससे पहले आँसू गैस का एक गोला सिर में लग जाने के कारण एक 13 वर्षीय बच्चे की मृत्यु हो गई थी और घाटी में प्रदर्शन भड़क उठे थे.

इसके बाद इसके लिए ज़िम्मेदार पुलिस अधिकारी को निलंबित कर दिया गया था.

इसके बाद घाटी में हिंसक प्रदर्शन भड़क उठे थे जिनमें लोगों ने पुलिस और अर्धसैनिक बलों पर पथराव किया था और पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे थे.

ग़ौरतलब है कि कई जगहों पर पिछले पाँच दिनों में लोगों ने कर्फ़्यू का उल्लंघन कर प्रदर्शन किए हैं.

संबंधित समाचार