माओवादियों ने पटरी उड़ाई

नक्सल
Image caption भारत के कई इलाक़ों में माओवादियों का ख़ासा प्रभाव है

उड़ीसा में संदिग्ध माओवादियों ने सोमवार की सुबह रेल की पटरियां उड़ा दी हैं जिसके कारण हावड़ा-मुंबई रेलमार्ग पर रेल यातायात अवरुद्ध हो गया है.

उल्लेखनीय है कि माओवादियों ने बिहार, झारखंड, उड़ीसा और पश्चिम बंगाल में सुरक्षा बलों के संयुक्त अभियान के ख़िलाफ़ शनिवार रात से 72 घंटे के बंद का आह्वान किया है.

माओवादियों ने रविवार को भी बिहार में कुछ स्थानों पर रेल पटरियां उड़ा दी थीं. छिटपुट हिंसा को छोड़ कर रविवार को बंद के दौरान कोई अप्रिय घटना नहीं हुई.

सोमवार की सुबह माओवादियों ने उड़ीसा के जरईकेला और भालूलता के बीच 30 किलोमीटर की रेल लाइन का एक हिस्सा उड़ा दिया.

यह ट्रैक मुंबई-हावड़ा रेल मार्ग में पड़ता है और इसके कारण रेल यातायात पर बुरा प्रभाव पडा है.

समाचार एजेंसी पीटीआई ने राउरकेला स्टेशन मैनेजर एसके पंडा के हवाले से बताया कि माओवादियों ने रेल ट्रैक उड़ा दिया जिसके कारण एक मालगाड़ी के दो डिब्बे पटरी से उतर गए थे.

इस घटना में जान माल के नुकसान की कोई ख़बर नहीं है. इस धमाके के बाद हावड़ा-मुंबई रुट पर कई स्टेशनों पर ट्रेनों को रोक दिया गया था.

संबंधित समाचार