प्रधानमंत्री ने स्थिति की समीक्षा की

पुणे धमाका

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पुणे में हुए धमाके के मद्देनज़र स्थिति की समीक्षा की है. उन्होंने गृह मंत्री पी चिदंबरम से मुलाक़ात की.

गृह मंत्री ने उन्हें अपनी पुणे यात्रा और जाँच की प्रगति के बारे में जानकारी दी. प्रधानमंत्री कार्यालय ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करके ये बताया है.

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने केंद्र और राज्य सरकारों को निर्देश दिया है कि वे पुणे धमाके की जाँच में मिल-जुलकर प्रभावी क़दम उठाएँ, ताकि दोषियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई हो सके.

प्रधानमंत्री ने पुणे धमाके में मारे गए और घायल लोगों के परिजनों के प्रति गहरी सहानुभूति प्रकट की.

राहत की घोषणा

उन्होंने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से मारे गए लोगों के परिजनों के लिए दो-दो लाख रुपए और घायलों की सहायता के लिए एक-एक लाख रुपए की सहायता राशि की घोषणा की.

Image caption मनमोहन सिंह ने सहायता की भी घोषणा की

मनमोहन सिंह ने कहा कि सरकार मारे गए और घायलों के परिजनों को हरसंभव सहायता देगी.

इससे पहले गृह मंत्री पी चिदंबरम ने पुणे का दौरा किया और पत्रकारों से बातचीत में कहा कि ये ख़ुफ़िया एजेंसियों की विफलता नहीं है.

गृह मंत्री का कहना था कि पुणे का कोरेगांव पहले से ही चरमपंथियों के निशाने पर था. मुंबई हमले के सिलसिले में गिरफ़्तार पाकिस्तानी मूल के अमरीकी नागरिक डेविड हेडली 2008 में यहाँ रह चुके हैं.

शनिवार शाम साढ़े सात बजे पुणे के जर्मन बेकरी रेस्तरां में हुए धमाके में नौ लोग मारे गए हैं और 50 से ज़्यादा घायल हुए हैं.

संबंधित समाचार