बारामुला मुठभेड़ में दो चरमपंथी मारे गए

भारत प्रशासित कश्मीर में सेना
Image caption हाल ही में राजौरी के जंगलों में सुरक्षाकर्मियों और चरमपंथियों के बीच मुठभेड़ हुई थी

भारत प्रशासित जम्मू-कश्मीर के बारामुला ज़िले के एक गाँव में बुधवार सुबह से सुरक्षा बलों और कुछ चरमपंथियों के बीच चली मुठभेड़ में दो चरमपंथी मारे गए हैं.

बारामुला से 25 किलीमीटर की दूरी पर स्थित कचूमुगाम गाँव में आबादी वाले इलाक़े में एक घर में कुछ चरमपंथियों को सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवानों ने घर लिया था.

डीआईजी अब्दुल कयूम मनिहार ने बताया कि मारे गए दोनों चरमपंथी लश्करे तैबा के थे और उनकी पहचान की जा रही है.

राजौरी में भी हुई थी मुठभेड़

ग़ौरतलब है कि दो ही दिन पहले राजौरी में सुरक्षाबलों और चरमपंथियों के बीच एक मुठभेड़ हुई थी जिसमें लश्करे तैबा के एक चरमपंथी के मारे जाने का दावा किया गया था.

इस घटना के बारे में सेना के अधिकारियों का कहना था कि रविवार को उन्हें ऐसी सूचना मिली थी कि कुछ चरमपंथी राज़ौरी ज़िले के जंगलों में छुपे हुए हैं.

इसके बाद सेना और पुलिस ने इस इलाक़े की घेराबंदी कर दी थी और दो दिन तक दोनों ओर से रुक-रुक कर गोलीबारी होती रही थी.

अधिकारियों का कहना था कि इस मुठभेड़ के दौरान लश्करे तैबा का एक चरमपंथी मारा गया था जबकि दो लोग भाग जाने में सफल रहे थे.

संबंधित समाचार