'मणिपुर में मंत्रियों ने की गोलीबारी'

सुरक्षाकर्मी
Image caption मणिपुर भारत का उग्रवाद प्रभावित राज्य है

मणिपुर में कथित रूप से नशे में धुत्त दो मंत्रियों की गोलीबारी में राज्य के महाधिवक्ता गंभीर रूप से घायल हो गए हैं.

मणिपुर के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बीबीसी को बताया कि महाधिवक्ता कोटेश्वर सिंह राज्य सरकार के दो मंत्रियों के रंजीत और डीडी थसई के साथ एक कार में यात्रा कर रहे थे, जब गोलीबारी की ये घटना हुई.

तीनों उखरुल कस्बे में एक समारोह में भाग लेकर वापस राजधानी इंफ़ाल लौट रहे थे.

पुलिस के अनुसार इस यात्रा के दौरान नशे में धुत्त दोनों मंत्रियों ने अपने लाइसेंसी रिवॉल्वर निकाल लिए और फिर गोलियाँ भी चल गईं.

हादसा लमलई पुलिस स्टेशन के पास हुआ जहाँ स्थानीय लोगों की भीड़ जमा हो गई. लोग दोनों मंत्रियों की गिरफ़्तारी की माँग कर रहे थे.

पुलिस मामले में किसी साज़िश के पहलू से इनकार कर रही है. उसका मानना है कि पूरा मामला एक तरह से एक बड़ी दुर्घटना मात्र है.

लेकिन कोटेश्वर सिंह के समर्थक इस गोलीकांड की उच्चस्तरीय जाँच की माँग कर रहे हैं.

कोटेश्वर सिंह मणिपुर के नामी क़ानूनविद हैं. उन्होंने मनोरमा के परिवार का केस लड़ा था.

मणिपुरी लड़की मनोरमा की बलात्कार के बाद हत्या कर दी गई थी और इस मामले में सुरक्षा बलों पर आरोप लगा था.

संबंधित समाचार