'शोएब आयशा पर दुबली होने का दबाव डाल रहा था'

फ़रीसा सिद्दीक़ी

अपने पहली तथाकथित शादी को लेकर पाकिस्तानी क्रिकेट खिलाडी शोएब मालिक एक बड़े विवाद में घिरे हुए हैं और इसकी तीव्रता दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है.

सारे विवाद की जड़ में ये सवाल है कि क्या शोएब ने हैदराबाद की आयशा सिद्दीक़ी के साथ शादी की है या नहीं?

अगर की थी तो फिर उनका मन क्यों उस लड़की से उकता गया और क्यों उन्होंने उसे अपनाने से इनकार कर दिया.

अगर आयशा सिद्दीक़ी की माँ फ़रीसा सिद्दीक़ी की बात मानी जाए तो इसका एक बड़ा कारण आयशा का मोटापा भी था.

हैदराबाद में अपने निवास स्थान पर बीबीसी को दिए गए एक इंटरव्यू में फ़रीसा ने कहा की आयशा के मोटापे की बात दोनों के बीच कई बार तीखी बहस का कारण भी बना था और कई बार आयशा रोई भी थी.

शोएब पर आरोप

फ़रीसा ने कहा की कई बार शोएब आयशा के सामने दुबली पतली लड़कियों का उल्लेख कर के उसे तंग भी किया करता था.

उन्होंने बताया कि जून 2002 में फोन पर विवाह के बाद जब शोएब हैदराबाद आया था तो उसने आयशा से बार बार यह कहा था कि वो दुबली हो जाए.

उनका कहना था,"एक बार उसने आयशा से कहा कि वो उसी समय उसे दूसरों के सामने लाएगा जब वो दुबली हो जाएगी. एक बार उसने वादा किया कि वो उसे दुबई में होने वाले एक समारोह में ले जाएगा लेकिन बाद में वो यह कहकर मुकर गया कि वो मोटी है. इससे मेरी बेटी का दिल टूट गया और वो बहुत रोई."

फ़रीसा सिद्दीक़ी ने कहा कि आयशा इन बातों से इतनी निराश हो गई कि तंग आकर उसने अपनी एक ख़तरनाक सर्जरी करवाली.

उन्होंने बताया, "जिस समय हम लोग जेद्दाह में थे, वो अकेले दिल्ली गई और उसने वह ऑपरेशन करवाया क्योंकि वो शोएब को खुश करना चाहती थी. इसका सिला शोएब ने यह दिया है."

विवाद का असर

लेकिन सवाल यह है कि अगर आयशा का मोटापा शोएब को पसंद नहीं था तो उसने उससे पहले दोस्ती और फिर शादी क्यों की?

फ़रीसा का कहना था, "जिस समय शोएब आयशा से दुबई में मिला, वो एक आम खिलाड़ी था और उसने आयशा को पसंद किया था. लेकिन जब वो सफल हुआ, उसे लोकप्रियता मिली और लड़कियाँ उसके इर्द गिर्द घूमने लगीं तो उसका दिल फिर गया".

ये पूछने पर कि इस सारे विवाद का आयशा पर क्या असर पड़ा, फ़रीसा ने कहा, "मेरी बेटी गत पांच वर्षों से हाउस अर्रेस्ट या घर पर नज़रबंद है. वो कहीं आती जाती नहीं क्योंकि उसे डर है कि लोग उसका मजाक उड़ाएंगे और कहेंगे कि ये ही वो लड़की है जिसे शोएब ने छोड़ दिया. मेरी बेटी की इस हालत के लिए शोएब ही ज़िम्मेवार है.’’

फ़रीसा का कहना था कि शोएब को आयशा के विरुद्ध भड़काने वालों में उसके बहनोई इमरान ज़फर सबसे आगे थे.

उनका कहना था कि हालाँकि जब वो हमारे घर आए तो उन्होंने बड़ी चिकनी चुपड़ी बातें कीं थीं.

संबंधित समाचार