सेना का इस्तेमाल नहीं: चिदंबरम

गृह मंत्री पी चिदंबरम ने बुधवार को कहा कि दंतेवाड़ा की घटना के बाद 'नक्सलियों के साथ फिलहाल बातचीत करना जवानों के बलिदान की खिल्ली उड़ाने के समान' है.

मंगलवार को दंतेवाड़ा के मकराना जंगल में नक्सलियों ने एक साथ केंद्रीय अर्धसैनिक बलों के कई दस्तों पर घात लगाकर हमला किया था जिसमें 75 जवान मारे गए थे.

गृह मंत्री ने जगदलपुर में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह के साथ प्रेस कॉंफ्रेंस में कहा, "हमने बातचीत की पेशकश की और उन्होंने इस तरह का क्रूर जवाब दिया....हमने युद्ध शब्द का इस्तेमाल कभी नहीं किया...माओवादियों ने किया है. अगर वे शासन के ख़िलाफ़ युद्ध चाहते हैं तो हम भी जनता की रक्षा के संवैधानिक कर्तव्य का निर्वहन करेंगे."

उनका कहना था, "अभी बातचीत की बात भी करना जवानों के बलिदान की खिल्ली उड़ाने के समान है. हाँ, यदि कोई गुट हथियार डाल कर बातचीत करने की पेशकश करता है तो विचार किया जाएगा."

चिदंबरम ने इस बात से इनकार किया कि नक्सलियों के ख़िलाफ़ 'ग्रीन हंट' के नाम से कोई अभियान चल रहा है. उन्होंने कहा, "मुझे पता चला कि कहीं एक पुलिस अधिकारी ने कभी ग्रीन हंट का ज़िक्र कर दिया था. उसी आधार पर ये बात होने लगी लेकिन हमने माओवादियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई को कोई नाम नहीं दिया है."

हवाई हमले का विकल्प

उनसे ये पूछा गया कि क्या माओवादी विद्रोहियों के ख़िलाफ़ हवाई हमले की रणनीति अपनाने पर विचार हो सकता है? चिदंबरम का कहना था, "फ़िलहाल नहीं....अगर ज़रूरी हुआ तो बदले हालात में हम इस पर दोबारा विचार कर सकते हैं."

लेकिन उन्होंने माओवादियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई में सेना के इस्तेमाल से साफ़ इनकार किया. चिदंबरम ने कहा, "हमारे आकलन के मुताबिक राज्य पुलिस और अर्धसैनिक बल नक्सली समस्या से निपटने में सक्षम हैं. हमें धैर्य रखने की ज़रूरत है. दो-तीन साल का समय लगता है या हो सकता है उससे भी ज़्यादा, लेकिन इतना तय है कि हम उन्हें सफल नहीं होने देंगे."

गृह मंत्री के मुताबिक दंतेवाड़ा में सीआरपीएफ़ जवान किसी ख़ुफ़िया जानकारी अभियान पर नहीं निकले थे बल्कि वे उस जगह से परिचित होना चाहते थे और इसी बारे में जानकारी प्राप्त करने गए थे.

उन्होंने नक्सली हमले के बारे में कहा कि सीआरपीएफ़ दस्तों पर अंधाधुंध फ़ायरिंग की गई लेकिन ज़्यादातर मौतें बारूदी सुरंगों के विस्फोट, देसी बमों और हथगोलों के इस्तेमाल के कारण हुईं.

संबंधित समाचार